अय्यर पर कार्रवाई, क्या ये कांग्रेस में 'राहुल युग' का आगाज है?

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
    Rahul Gandhi की नीच कांड पर कार्रवाई, Mani Shankar Aiyar Suspend। वनइंडिया हिंदी

    नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'नीच' और 'असभ्य' बताए जाने के बाद पैदा हुए सियासी विवाद के बाद पार्टी ने मणिशंकर अय्यर को कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है।अय्यर के निलंबन को कांग्रेस का मास्टरस्ट्रोक करार दिया जा रहा है, जिसने इस पूरे मामले को गुजरात में चुनावी मुद्दा बनाने की भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की कोशिश को परवान चढ़ने से पहले ही ध्वस्त कर दिया है। साथ ही इस एक्शन को कांग्रेस में राहुल गांधी के आगाज के रूप में देखा जा रहा है। अय्यर, देश के पूर्व प्रधानमंत्री और राहुल गांधी के पिता राजीव गांधी के करीबी नेताओं में शुमार रहे हैं। ऐसे में उनके खिलाफ की गई इस कार्रवाई को पार्टी के भीतर राहुल युग की शुरुआत बताया जा रहा है।

    राहुल ने माफी मांगने को कहा

    राहुल ने माफी मांगने को कहा

    मणिशंकर अय्यर के बयान पर खुद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने टिप्पणी करते हुए माफी मांगने को कहा था राहुल ने ट्वीट कर कहा- 'भाजपा और PM ने कांग्रेस पर हमला करते हुए अक्सर अभद्र भाषा का प्रयोग किया है। कांग्रेस की संस्कृति और विरासत अलग है। श्री मणिशंकर अय्यर ने भारत के प्रधानमंत्री के लिए जिस लहजे और भाषा का प्रयोग किया है वह गलत है। कांग्रेस और मैं चाहते हैं कि वो अपने बयान के लिए माफी मांगे।'

     अय्यर ने ये कहा था

    अय्यर ने ये कहा था

    पीएम को निशाना बनाते हुए अय्यर ने कहा था कि 'अंबेडकर जी की सबसे बड़ी ख्वाहिश थी, उसको साकार करने का एक व्यक्ति का सबसे बड़ा योगदान था, उनका नाम था जवाहर लाल नेहरू। अब उस परिवार के बारे में ऐसी गंदी बातें कहें वो भी तब जब अंबेडकर जी के नाम पर एक इमारत का उद्घाटन हो तो मुझको लगता है कि यह आदमी बहुत नीच किस्म का आदमी है। इसमें कोई सभ्यता नहीं है और ऐसे पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है। 'मणिशंकर ने उस बयान पर अपनी टिप्पणी कि जिसमें पीएम मोदी ने बाबा साहब भीम राव अंबेडकर का जिक्र किया था।

    अय्यर ने 'चाय की दुकान' पर भी बयान दिया था

    अय्यर ने 'चाय की दुकान' पर भी बयान दिया था

    अय्यर ने इससे पहले भी पीएम मोदी के लिए 'चाय की दुकान' खोले जाने संबंधी बयान दिया था, जिसे बीजेपी भुनाने में सफल रही और राजनीतिक विश्लेषकों के मुताबिक पिछले आम चुनाव में कांग्रेस को इसका नुकसान भी उठाना पड़ा। हालांकि तब कांग्रेस की कमान सोनिया गांधी के हाथों में थी और अय्यर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। यह पहली बार हुआ है जब कांग्रेस ने अपने किसी वरिष्ठ नेता के खिलाफ पीएम मोदी के खिलाफ की गई बयानबाजी को लेकर कार्रवाई की है।

    मार्च 2019 तक हर घर में होगी बिजली, जानिए सरकार का प्लान

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    action on mani Shankar Aiyar, is this a begining of Rahul Age In Congress

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.