JNU, DU के बाद एक और जगह बुरी तरह हारी ABVP, भाजपा विधायक पर निकाला गुस्सा

Subscribe to Oneindia Hindi

देहरादून। दिल्ली विश्वविद्यालय और जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के बाद अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) को एक और जगह हार का सामना करना पड़ा है। इस बार ABVP की ये हार उत्तराखंड के हेमवती नंदन बहुगुणा केंद्रीय गढ़वाल विश्वविद्यालय में हुई। प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार होने के बाद भी ABVP की यह हार खुद संगठन को नहीं पच रही है।

JNU, DU के बाद एक और जगह बुरी तरह हारी ABVP, भाजपा विधयक पर निकाला गुस्सा

प्रदेश में छात्र राजनीति की सबसे बड़े केंद्र हेमवती नंदन बहुगुणा केंद्रीय गढ़वाल विश्वविद्यालय में ABVP को गैर राजनीतिक संगठन जय हाउस के उम्मीदवार प्रदीप पंवार ने बुरी तरह से हराया। यहां छात्रसंघ में हार जीत का असर पूरे प्रदेश में पड़ता है। बता कि हेमवती नंदन बहुगुणा केंद्रीय गढ़वाल विश्वविद्यालय के तहत 45 महाविद्यालय हैं। प्रदेश के ही गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में भी ABVP को हार का सामना करना पड़ा। स्थानीय नेताओं का मानना है कि ABVP को आपसी फूट के चलते हार का सामना करना पड़ा। इस बार के चुनाव में निर्दलियों का दबदबा रहा।

ये भी पढ़ें: राहुल और कांग्रेस के कितना काम आएगी NSUI की जीत

गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में ABVP उम्मीदवार तरुण चौहान के मुकाहले निर्दलीय उम्मीद विक्रम भुल्लर ने जीत हासिल की। सचिव पद पर भी निर्दलीय उम्मीदवार सिद्धार्थ कुमार ने ABVP को हराया। वहीं बीते साल कुमाऊं विश्वविद्यालय में नेशनल स्टूडेंट यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) ने ABVP को पटखनी दी थी। हालांकि इस बार अभी तक यहां चुनाव नहीं हुए हैं।

बता दें कि हेमवती नंदन बहुगुणा केंद्रीय गढ़वाल विश्वविद्यालय में ABVP के नेताओं ने हार का गुस्सा स्थानीय विधायक स्वामी यतिश्वरानंद पर निकाला। नेताओं ने विधायक के समर्थक पर हमला किया। खुद विधायक ने ABVP नेताओं का सामना लाठी चलाकर किया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
ABVP face defeat in hemwati nandan bahuguna garhwal university
Please Wait while comments are loading...