भारत का अब तक का सबसे बड़ा राजनीतिक पोल. क्या आपने भाग लिया?
  • search

बड़े हमले को अंजाम दे सकता है हाफिज सईद, High-Alert जारी

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
      Intelligence Bureau declares high alert following Hafiz Saeed's release | वनइंडिया हिंदी

      नई दिल्ली। लश्कर ए तैयबा के चीफ हाफिज सईद के रिहा होने के बाद जम्मू कश्मीर में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। हाफिज सईद को लाहौर की कोर्ट ने बुधवार को बरी कर दिया था, जिसके बाद उसने अपने समर्थकों के बीच एक बड़ी रैली को संबोधित किया जिसमे उसने एक बार फिर से कश्मीर का जिक्र करते हुए कहा कि वह कश्मीर की आजादी के लिए अपनी लड़ाई जारी रखेगा। सईद ने कहा कि मुझे 10 महीने तक नजरबंद रखा गया, मुझे कश्मीर पर बोलने से रोका गया, लेकिन मैं पूरे पाकिस्तान को कश्मीर की आजादी के लिए एकजुट करुंगा और उन्हें उनकी मंजिल हासिल कराने में मदद करुंगा।

      सुरक्षाकर्मियों को अलर्ट रहने की जरूरत

      सुरक्षाकर्मियों को अलर्ट रहने की जरूरत

      इंटेलिजेंस ब्यूरो के अधिकारियों का कहना है कि हाफिज सईद के बरी होने से उसके समर्थकों का उत्साह बढ़ेगा, ऐसे में खुद हाफिज सईद ऑपरेशन पर नजर रखेगा, लिहाजा बड़े स्तर पर किसी हमले की संभावना बढ़ जाती है। आईबी का कहना है कि हाफिज सईद के रिहा होने के बाद आईएसआई अधिक से अधिक आतंकियों को सर्दी के मौसम में घुसपैठ कराने की कोशिश करेगा, लिहाजा तमाम सुरक्षाकर्मियों को हाई अलर्ट पर रहने की जरूरत है।

      कश्मीर की आजादी के लिए लड़ाई जारी रखेगा

      कश्मीर की आजादी के लिए लड़ाई जारी रखेगा

      आईबी अलर्ट में कहा गया है कि जम्मू कश्मीर में लश्कर ए तैयबा के सदस्य किसी बड़े हमले की साजिश रच सकते हैं। अलर्ट में सुरक्षाकर्मियों को कहा गया है कि वह सीमा पर कड़ी निगरानी रखें, जहां से आतंकियों के घुसने की संभावना है। कोर्ट से बरी होने के बाद हाफिज सईद ने इस बात का दावा किया है कि वह कश्मीर के लिए अपनी लड़ाई जारी रखेगा, उसने कहा कि वह इस बात की पूरी कोशिश करेगा कि कश्मीर के लोग आजाद हो। हाफिज सईद ने खुले तौर पर इस बात को कहा है कि वह कश्मीर के लोगों को आजादी दिलाने के लिए पूरे पाकिस्तान के लोगों को इकट्ठा करेगा।

      एक करोड़ डॉलर का इनाम है

      एक करोड़ डॉलर का इनाम है

      आपको बता दें कि हाफिज सईद पर आतंकी गतिविधियों की वजह से अमेरिका ने उसपर एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है। इसी वर्ष जनवरी माह में हाफिज सईद को हिरासत में लिया गया था, लेकिन जिस तरह से उसकी रिहाई हुई है उसके बाद एक बार फिर से पाकिस्तान पर दबाव बनने लगा है कि वह उसे वापस हिरासत में ले। हाफिज सईद के आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा पर मुंबई हमले की साजिश रचने का आरोप है, लश्कर के 10 आतंकियों ने 166 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। पुलिस ने 9 आतंकियों को मार गिराया था, जबकि एक आतंकी अजमल कसाब को गिरफ्तार कर लिया था, जिसे कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी।

      इसे भी पढ़ें- जम्मू कश्मीर: इंडियन आर्मी ने 2010 के बाद इस साल सबसे ज्यादा आतंकियों का किया सफाया

      जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

      देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
      English summary
      A high alert has been declared in Jammu and Kashmir following the release of Lashkar-e-Tayiba chief, Hafiz Saeed. Saeed walked free free from house arrest on Wednesday and addressed a huge gathering of his supporters.

      Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
      पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

      X
      We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more