• search
हैदराबाद न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Chittoor : टीचर दम्पति ने 22 व 27 वर्षीय दो बेटियों की हत्या की, बोले-'सूरज उगते ही वापस हो जाएंगी जिंदा'

|

Two daughter Murder In Chittoor Andhra Pradesh : चित्तूर। आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के मदनपल्ले के शिवनगर इलाके में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां पर माता-पिता ने अपनी दो जवान बेटियों की हत्या कर दी। पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया है कि वारदात को अंधविश्वास के चलते अंजाम दिया गया है। वास्तविक कारणों का पता पुलिस की विस्तृत जांच से चल सकेगा।

त्रिशुल व डंबल से वार करके की हत्या

त्रिशुल व डंबल से वार करके की हत्या

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पुरुषोत्तम नायडू महिला डिग्री कॉलेज के वाइस प्रिंसिपल हैं, जबकि उनकी पत्नी पद्मजा एक निजी शिक्षण संस्थान की कॉरेस्पोंडेंट प्रिंसिपल हैं। उनकी बेटी अलेखा 27 और दिव्या 22 साल की थी। पुरुषोत्तम और पद्मजा पिछले कुछ समय से घर में चमत्कार की पूजा कर रहे थे। रविवार रात को अलेखा और दिव्या की त्रिशुल व डंबल से पीट-पीटकर हत्या कर दी।

एक बेटी का शव पूजा रूम में मिला

एक बेटी का शव पूजा रूम में मिला

रात को इनकी घर से लड़ने-झगड़ने और रोने चीखने की आवाज सुनाई देने पर स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। डीएसपी रवि मनोहरचारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। तब पुलिस को पूजा रूम में एक बेटी और अन्य कमरे में दूसरी बेटी का शव मिला।

 दोनों बेटियां थी काफी पढ़ी लिखी

दोनों बेटियां थी काफी पढ़ी लिखी

पुलिस ने दोनों शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल के मुर्दाघर में पहुंचाया। आरोपी दम्पती पुरुषोत्तम व पद्मजा को गिरफ्तार कर लिया। बड़ी बेटी अलख्या ने भोपाल से मास्टर्स की डिग्री ली थी। छोटी बेटी साई दिव्या ने बीबीए की पढ़ाई की थी। वह मुंबई में एआर रहमान म्यूजिक कॉलेज की स्टूडेंट थी।

 कलयुग खत्म होकर सतयुग शुरू होने का दावा

कलयुग खत्म होकर सतयुग शुरू होने का दावा

मीडिया से बातचीत में डीएसपी रवि मनोहरचारी ने बताया कि पूजा के रूम में लाल कपड़े टंगे थे। बेटी के शव पास भी पूजा का सामान बिखरा पड़ा था। पुरुषोत्तम नायडू व पद्मजा बेटियों के शव के पास बैठे थे। वे कह रहे थे कि दोनों लड़कियां सूरज उगने के साथ ही जीवित हो जाएंगी, क्योंकि कलयुग खत्म हो जाएगा और सोमवार से सतयुग शुरू हो जाएगा।

कोरोना शिव के बालों से पैदा हुआ!

कोरोना शिव के बालों से पैदा हुआ!

खबर यह भी है अंधविश्वास के चक्कर में दो बेटियों की हत्या करने वाला ये माता-पिता यह भी दावा करते नजर आए कि कोरोना वायरस चीन में नहीं आया बल्कि यह तो शिव के सिर के बालों से पैदा हुआ है। पड़ोसियों का कहना है कि ये परिवार लॉकडाउन के दौरान भी अजीब तरीके से बर्ताव कर रहा था।

हत्या के बाद साथियों को जानकारी दी

हत्या के बाद साथियों को जानकारी दी

बता दें कि आरोपी पुरुषोत्तम नायडू व पद्मजा ने पहले छोटी बेटी दिव्या की त्रिशुल घोंपकर हत्या कर दी। फिर बड़ी बेटी आलेख्या के मुंह में ताम्बे का कटोरा ठूंस दिया और उसके सिर पर डंबल से जोरदार वार किया, जिससे उसकी भी मौ​त हो गई। वारदात को अंजाम देने बाद अपने साथियों को इसकी जानकारी भी दी। साथियों की सूचना पर ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। पहले तो आरोपियों ने पुलिस को घर में घुसने तक नहीं दिया। फिर पु​लिस जोर-जबरदस्ती करते हुए अंदर पहुंच गई।

अंधविश्वास: 30 किमी दूर बैठा तांत्रिक फूंकता रहा मंत्र, मृत बच्चे को मोबाइल पर सुनाते रहे परिजन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Teacher couple murdered two 22 and 27 year old daughters in Chittoor Andhra Pradesh
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X