नोटबंदी: हैदराबाद का कारोबारी गिरफ्तार, 98 करोड़ रुपये बैंक में जमा करने का आरोप

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

हैदराबाद। नोटबंदी के बीच लगातार फर्जी तरीके से बैंक में काला धन जमा करने के मामलों का खुलासा हो रहा है। ताजा मामला हैदराबाद का है जहां फर्जी तरीके से 98 करोड़ रुपये का काला धन बैंक में जमा कराने के आरोप में एक कारोबारी को गिरफ्तार किया गया है। कारोबारी पर आरोप है कि उसने गलत तरीके से अग्रिम भुगतान पर्ची के जरिए इन पैसों को बैंकों में जमा कराया। आरोपी कारोबारी का नाम कैलाश चंद गुप्ता है। उसकी उम्र करीब 65 वर्ष है। कारोबारी के साथ-साथ उसके परिजनों और कुछ अन्य लोगों के खिलाफ भी पुलिस ने भारतीय दंड संहिता के विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई की है। उनके भी इस साजिश में शामिल होने के आरोप लगे हैं।

cash नोटबंदी: हैदराबाद का कारोबारी गिरफ्तार, फर्जी रसीदों से 98 करोड़ बैंक में जमा करने का आरोप

कालेधन को बैंक में जमा कराने के आरोप में कार्रवाई

कैलाश चंद गुप्ता की गिरफ्तारी की कार्रवाई हैदराबाद पुलिस की एक शाखा केंद्रीय अपराध स्टेशन की टीम ने की है। जांच टीम ने धोखाधड़ी और नोटबंदी के बाद हेराफेरी के जरिए पैसों को बैंक में जमा कराने के आरोप में उन पर ये कार्रवाई की। जांच टीम ने एक और कारोबारी नरेंद्र कुमार (59) को भी गिरफ्तार किया है। नरेंद्र कुमार एक निजी फर्म के एमडी और कैलाश चंद गुप्ता के रिश्तेदार भी हैं। जानकारी के मुताबिक कैलाश चंद गुप्ता तीन ज्वैलरी और आभूषण फर्म चलाते हैं। उनके इस कारोबार में उनके दो बेटे नितिन और निखिल भी सहयोग करते हैं। इसमें उनकी बहू समेत एक और महिला डायरेक्टर हैं।

नोटबंदी के बाद कैलाश चंद गुप्ता, उनके बेटे और बहू ने मिलकर काले धन को बैंक में जमा कराने का रास्ता अपनाया। उन्होंने अग्रिम भुगतान पर्ची के जरिए करीब 3100 ग्राहकों के लिए रसीदें तैयार की। 57.85 करोड़ रुपये की ये भुगतान पर्ची उन्होंने मुसद्दीलाल जेम्स एंड ज्वैलर्स प्राइवेट लिमिटेड के नाम से बनाई। पुलिस ने बताया कि इसके साथ-साथ उन्होंने 40 करोड़ की अग्रिम भुगतान पर्ची के जरिए दूसरी फर्म वैष्णवी बुलियन प्राइवेट लिमिटेड के नाम से जारी की। इसके लिए करीब 21 ग्राहकों को तैयार किया गया और उनके नाम से कप्यूटराइज्ड रसीदें जारी की। पुलिस ने बताया कि ये सभी रसीदें 8 नवंबर की रात 9 से 12 बजे के बीच प्राप्त दिखाई गई हैं, इसे एसबीआई की पंजागुट्टा शाखा और एक्सिस बैंक की बंजारा हिल्स शाखा में इनका भुगतान किया गया।

इसे भी पढ़ें:- नोटबंदी का पचासवां दिन बरेली को पड़ा भारी, बैंक की लाइन में लगे व्यक्ति की मौत

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Hyderabad businessman arrested deposit Rs. 98 crore in banks following the ban of 500 and 1000 rupee notes.
Please Wait while comments are loading...