• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हरियाणा में ब्लैक फंगस के मरीज 1 हजार के पार, 24 घंटे में 74 नए मिले, 1025 में से सिर्फ 138 ठीक हो पाए

|

चंडीगढ़। हरियाणा में ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़कर 1 हजार के आंकड़े को पार कर गई है। बीते 24 घंटे में यहां ब्लैक फंगस के 74 नए मामले दर्ज किए गए। वहीं, ब्लैक फंगस से पीड़ित 6 जनों की मौत हो गई। राज्य में इस रोग का पहला मामला 7 मई को सामने आया था। उसके बाद 27 दिन में ही हजार से ज्यादा मामले सामने आ गए। जिनमें से 500 मरीज तो 11 दिनों में मिल चुके हैं।

black fungus patients covid

अब तक 1025 ब्लैक फंगस के मामले दर्ज
स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक, इस रोग के नए मरीज एक दिन में तीन गुना बढ़े हैं। अब तक 1025 लोग ब्लैक फंगस से पीड़ित हो चुके हैं। जिनमें से महज 138 का ही इलाज पूरा हो पाया।
अभी 784 पीड़ित भर्ती हैं। ब्लैक फंगस वाले रोगियों के लिए इंजेक्शन की कमी भी बरकरार है। इन रोगियों को एम्फोटेरिसिन-बी इंजेक्शन लगता है। एक रिपोर्ट में बताया गया कि, 784 मरीजों के लिए 954 इंजेक्शन ही मिले। राज्य सरकार ने केंद्र से 12 हजार से ज्यादा शीशियां मांगी।

मंत्री बोले- 'एम्फोटेरिसिन बी' की केंद्र से 550 शीशियां मिलीं, ब्लैक फंगस के हरियाणा में 400 से ज्यादा मरीजमंत्री बोले- 'एम्फोटेरिसिन बी' की केंद्र से 550 शीशियां मिलीं, ब्लैक फंगस के हरियाणा में 400 से ज्यादा मरीज

black fungus patients covid

ज्यादातर राज्यों में दवा की किल्लत
उधर, हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का कहना है कि एम्फोटेरिसिन-बी के इंजेक्शन अभी कम हैं। उन्होंने कहा कि, केंद्र से और इंजेक्शन की मांग की गई है। हालांकि, ब्लैक फंगस की दवा की किल्लत कई राज्यों में हैं। अस्पतालों में इस दवा की आपूर्ति कम होने की शिकायतें मिल रही हैं। वहीं, केंद्र सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय का कहना है कि, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय औषध विभाग एवं विदेश मंत्रालय के साथ एम्फोटेरिसिन-बी दवा के घरेलू उत्पादन में बढ़ोतरी के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। केंद्र सरकार का कहना है कि, इस दवा को वैश्विक उत्पादकों से आपूर्ति हासिल करके घरेलू उपलब्धता को पूरा करने के लिए प्रभावी प्रयास किए जा रहे हैं।

black fungus patients covid

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री बोले- ब्लैक फंगस का इंजेक्शन नहीं मिल रहा, केंद्र से 12 हजार शीशियां मांगी थींहरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री बोले- ब्लैक फंगस का इंजेक्शन नहीं मिल रहा, केंद्र से 12 हजार शीशियां मांगी थीं

कोरोना के मुकाबले ज्यादा खतरनाक
ब्लैक फंगस मरीजों के लिए कोरोना के मुकाबले ज्यादा पीड़ादायक है। और, हरियाणा की ही बात करें तो ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या 1000 पार होने में यहां सिर्फ 27 दिन लगे हैं। जबकि कोरोना के 1000 मरीज 66 दिन में मिले थे। ब्लैक फंगस के 60 मरीजों की जान सिर्फ 6 दिनों में चली गई। औसत हर दिन 10 मरीजों ने दम तोड़ा।

English summary
the numbers of black fungus patients crossed 1 thousand In Haryana, 74 new were found in 24 hours, only 138 out of 1025 were recovered
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X