Karva Chauth 2017: इस तरह से गहरा होगा हथेली पर मेंहदी से लिखा सजना का नाम...

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    नई दिल्ली। आज सुहागिनों का त्योहार करवा चौथ है, आज महिलाएं 16 श्रृंगार करके मां-गौरी की पूजा करती हैं और चांद का दीदार करके उसे अर्ध्य देती हैं और ऊपर वाले से प्रार्थना करती हैं कि उनके पति की आयु लंबी हो। महिलाओं के 16 शृंगार में मेंहदी का अहम रोल है।

    Karva Chauth 2017: मेंहदी लगाऊंगी मैं सजना के नाम की

    मेंहदी केवल आभूषण या सजने का माध्यम नहीं बल्कि प्रेम का प्रतीक भी है। इसलिए महिलाएं आज के दिन अपनी हथेलियों पर मेंहदी जरूर रचाती है।

    कहते हैं जिसकी मेंहदी जितनी गहरी होती है उसके पियाजी उससे उतना प्यार करते हैं। तो चलिए जानते हैं मेंहदी को डार्क रचाने के टिप्स...

    • जब आप अपने हाथों में मेहंदी लगाती हैं तो उसे पानी से न धोएं। 
    • आप अपनी मेहंदी को हमेशा हल्के हाथों से रगड़ कर उतारे या बटर नाइफ का भी इस्तेमाल कर सकती हैं।
    • मेहंदी को हटाने के बाद हथेली में तेल लगाएं। 
    • रंग को गहरा करने के लिए आप विक्स का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। 
    • विक्स की गर्माहट से मेहंदी का रंग गहरा होगा।
    • मेहंदी के रंग को गहरा करने के लिए आप लौंग की भाप लें सकती हैं। 
    • जब मेहंदी सूख जाएं तो उस पर शकर और नींबू का घोल लगाएं। 
    • घोल चिपचिपा होता हैं और इससे मेहंदी जल्दी नहीं उतरती।
    • अगर आपको वैक्सिंग या स्क्रबिंग करनी है तो मेहंदी लगवाने के पहले ही कर लें।
    • मेहंदी लगवाने के बाद वैक्सिंग और स्क्रबिंग करने से उसका रंग जल्दी हल्का हो जाता है।
    • Read Also:Karva Chauth 2017: जानिए आपके शहर में कितने बजे दिखेगा चांद?

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Mehndi, also known as henna, has been an age old tradition in many Asian and Persian countries. Women use henna to form intricate designs to decorate their hands and feet to mark special occasions or to simply look trendy.

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more