• search
फैजाबाद / अयोध्या न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

अप्राकृतिक दुष्कर्म के मामले में तीसरी बार जेल भेजा गया मौलवी साकिब, इस बार किशोर को FB से यूं बनाया शिकार

|

आयोध्या। धर्मनगरी अयोध्या के ग्रामीण क्षेत्र रुदौली इलाके में रहने वाले मौलवी हाजी साकिब पर एक किशोर के साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म करने का संगीन आरोप लगा है। किशोर का आरोप है कि मौलवी ने उसे मुशायरे में शामिल कराने की बात कहकर प्रयागराज से अयोध्या बुलाया था। यहां उसे नशीला इंजेक्शन देकर उसके साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म किया। पुलिस ने किशोर की तहरीर पर आरोपी मौलवी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि मौलवी पर अप्राकृतिक दुष्कर्म के दो मुकदमे पहले से दर्ज हैं।

ayodhya Mawlawi haji saqib jailed for making unnatural relation with minor boy

फेसबुक के जरिए दोस्ती कर किशोर को घर बुलाया

पीड़ित किशोर ने पुलिस को बताया कि फेसबुक के जरिए रुदौली के परसोली गांव के रहने वाले मौलवी हाजी साहब से उसकी जान-पहचान हुई थी। मौलवी ने उसे मुशायरे में शामिल कराने की बात कही और अयोध्या में रुदौली के अपने घर पर बुला लिया। किशोर का आरोप है कि मौलवी ने घर में बुलाकर उसे नशीला इंजेक्शन दिया, जिसके बाद उसे होश नहीं रहा। इसके बाद 2 दिन तक मौलवी हाजी साकिब ने उसके साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म किया। जानकारी के मुताबिक, हाजी मौलवी साकिब रुदौली क्षेत्र के ही एक मदरसे में पढ़ाता था, जहां पर उसने पहले भी इस तरह से कई बच्चों के साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म किया। इन मामलों में वह दो बार जेल जा चुका है। इस बार इसी आरोप में तीसरी बार जेल गया है।

तीसरी बार जेल भेजा गया है मौलवी

इस मामले में सीओ धर्मेंद्र कुमार यादव ने बताया कि पीड़ित की तहरीर पर आरोपी मौलवी के खिलाफ मुकदमा दर्ज क उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। सीओ के मुताबिक, मौलवी पहले भी मदरसे के छात्र के साथ इसी तरह के संगीन आरोप में जेल जा चुका है।

लखनऊ: सिलेंडर में विस्फोट के बाद उड़े घर के परखच्चे, एक की मौत, आग से झुलसे कई लोग

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
ayodhya Mawlawi haji saqib jailed for making unnatural relation with minor boy
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X