शादी के लिए 2.5 लाख की सीमा पर कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। शादी के लिए बैंक से 2.5 लाख रुपये निकालने में छूट देने के लिए दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने अपना फैसला कल (मंगलवार) तक के लिए सुरक्षित रख लिया है।

court

8 नोटबंदी की घोषणा के बाद इसको लेकर देशभर में कई याचिकाएं कोर्ट में दी गई हैं। नोटबंदी के बाद सरकार ने शादी के लिए बैंक से 2.5 लाख रूपये तक निकालने की छूट दी थी, जिसको लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई थी, याचिका में इस राशि में छूट देने की मांग की गई है।

पीएम मोदी के नोटबंदी के ऐलान के बैंक और एटीएम से रुपये निकालने की सीमा में सरकार ने लगातार बदलाव किए हैं। नोटबंदी के बाद शादियों में भारी परेशानी आने के बाद सरकार ने शादी के लिए 2.5 लाख रुपये निकालने की छूट दी है।

20 दिन से देश में है कैश को लेकर आपाधापी

पीएम मोदी ने 8 नवंबर की शाम को अचानक राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में 1000 और 500 को नोटों को गैरकानूनी घोषित कर दिया था। इसके बाद देशभर में पिछले 20 दिन में कैश की भारी किल्लत है।

देशभर में इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट में काई याचिकाएं भी दाखिल की गई हैं। विपक्षी पार्टियां भी लगातार संसद से सड़क तक इस फैसले के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं। अलग-अलग रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 20 दिनों में 80 से ज्यादा मौतें देशभर में हुई हैं, जिनका ताल्लुक नोटबैन से रहा है।

संसद का शीतकालीन सत्र भी लगातार नोटबैन पर हंगामें की भेंट चढ़ रहा है। विपक्ष संसद में पीएम मोदी से नोटबैन पर जवाब देने की मांग कर रहा है, तो पीएम संसद नहीं जा रहे हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Delhi HC reserves order on plea seeking relaxation of Rs 2.5 lakh withdrawal limit for marriages
Please Wait while comments are loading...