• search
दिल्ली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

अक्षरधाम फ्लाईओवर में दरार, दो स्लैब के बीच दिखी दूरी

By Rizwan
|

नई दिल्ली। दिल्ली के अक्षरधाम फ्लाईओवर में दरार आ गई है। फ्लाईओवर में दो स्लैब को जोड़ने वाली पट्टी के बीच में दूरी देखी गई है। पिछले हफ्ते लापजपनगर के फ्लाईओवर में भी दरार देखी गई थी। अक्षरधाम फ्लाईओवर डबल कैरिज-वे कॉरिडोर है। मयूर विहार से लक्ष्मी नगर की तरफ आने वाले कॉरिडोर में यह दरार देखने को मिली है। इस कॉरिडोर पर दो से तीन जगह पर दोनों स्लैब में गैप आने की रिपोर्ट सामने आई है। गैप कई जगह पर चार इंच से भी ज्यादा है, जो कभी भी किसी हादसे की वजह बन सकती है। इससे पहले बीते साल जुलाई में भी इस फ्लाईओवर में दरार देखी गई थी।

 जल्दी ही की जाएगी मरम्मत

जल्दी ही की जाएगी मरम्मत

पीडब्ल्यूडी के के अधिकारियों का कहना है कि मामला सामने आने के बाद जांच की जा रही है और आवश्यकता होने पर कॉरिडोर बंद करके मरम्मत की जाएगी। अक्षरधाम के नजदीक यह फ्लाईओवर 2000 में डीडीए ने बनाया था। यह फ्लाईओवर एनएच-24 पर अक्षरधाम को सीधे नोएडा से जोड़ता है। इस वजह से कॉरिडोर पर काफी यातायात रहता है।

दिल्ली के आश्रम-लाजपत नगर फ्लाईओवर में भी देखी गई थी दरार

दिल्ली के आश्रम-लाजपत नगर फ्लाईओवर में भी देखी गई थी दरार

दिल्ली के काफी व्यस्त रहने वाले आश्रम-लाजपत नगर फ्लाईओवर के दो गार्डर के बीच बड़ी दरार बीते हफ्ते देखी गई थी। रिंग रोड पर लाजपत नगर इलाके में आश्रम से मूलचंद की ओर जाने वाले फ्लाईओवर पर दोनों गार्डरों को बीच करीब एक फुट की जगह बनी हुई है। ये दरार बुधवार को देखी गई। स्कूटर और बाइक इससे बचकर निकल रहे हैं, तो गाड़ियां धीरे-धीरे इससे गुजर रही है। यहां से गुजर रहे लोगों ने शिकायत की थी कि इसको ठीक ना किया गया तो इस बात की आशंका है कि ये बड़े हादसे की वजह बन सकता है।

सर्दियों में फैलते हैं गार्डर

सर्दियों में फैलते हैं गार्डर

पीडब्ल्यूडी से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि दो गार्डरों के बीच थोड़ी जगह रखना जरूरी होता है, क्योंकि गर्मियों के दौरान ये सिकुड़ जाते हैं, जबकि सर्दियों में फैल जाते हैं। इसी वजह से ये स्थिति बनती है। विशेषज्ञों के अनुसार, फ्लाईओवर में दरार पड़ने के कई तकनीकी कारण हैं। इसमें पहला कारण यह है कि अब फ्लाईओवर के बीच में लगने वाले खंभों की दूरी अधिक होती है। पहले यह दूरी करीब 15-20 मीटर तक होती थी, लेकिन अब इसे 25-30 मीटर रखा जाता है। दूरी होने की वजह से यह गैप सामने आता है। इसके अतिरिक्त सड़क निर्माण के लिए तारकोल का प्रयोग होता है। सर्दियों में तारकोल सिकुड़ता है। इससे ब्रिज पर प्रयोग की गई रबड़ सील हटनी शुरू हो जाती है।

VIDEO: दिल्ली के आश्रम-लाजपत नगर फ्लाईओवर पर दो गार्डर के बीच दरार, हो सकता है बड़ा हादसा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Delhi Akshardham overpass flyover, gaps appear on road
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X