• search
छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Koriya: डूबती बेटी को बचाने मां ने लगा दी छलांग, इस घटना के बाद लोगों ने कहा, मां आखिर मां होती है

छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में आज एक बार फिर एक मां ने साबित कर दिया है कि मां आखिर मां होती है। कोरिया जिले में एक खुले में डूब रही बेटी को बचाने मां अपने जान की परवाह किये बगैर गड्ढे में छलांग लगा दी
Google Oneindia News

कोरिया, 04 सितम्बर। छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में आज एक बार फिर एक मां ने साबित कर दिया है कि मां आखिर मां होती है। अपनी संतान की रक्षा के लिए वो स्वयं यमराज से भी लड़ जाती है। कोरिया जिले में एक खुले गड्ढे में डूब रही बेटी को बचाने मां अपने जान की परवाह किये बगैर गड्ढे में छलांग लगा दी और इसके बाद पूरे गांव में मातम पसर गया।

खुले गड्ढे के पास खेल रहे थे बच्चे

खुले गड्ढे के पास खेल रहे थे बच्चे

दरअसल कोरिया जिले के गांव जनुआ में पानी से भरे एक खुले गड्ढे के पास 2 और 4 साल उम्र की दो बहने खेल रहे थे। खेलते खेलते अचानक 4 वर्षीय प्रिया उस पानी से भरे गहरे खुले गड्ढे में फिसल कर गिर गई। दूसरी बहन ने जाकर इस बात की जानकारी मां को दी। बच्ची को डूबती प्रिया को देख कर मां ने आनन फानन में उस गहरे गड्ढे में छलांग लगा दी। लेकिन मां अपनी बेटी को नहीं बचा पाई।

बेटी को बचाने मां ने लगा दी छलांग

बेटी को बचाने मां ने लगा दी छलांग

डूब रही पिंकी को बचाने मां ने गहरे गड्ढे में छलांग लगाई थी। लेकिन इस हादसे बेटी प्रिया तो नही बच पाई इसके साथ 24 वर्षीय माता पिंकी की जान चली गई। बताया जा रहा है कि ये पूरा मामला कोरिया जिले के जनकपुर थाना क्षेत्र के जनुआ ग्राम का है। जहां बेटी को बचाने के दौरान मां खुद की जान गवां बैठी।

हादसे के बाद गांव में पसरा मातम

हादसे के बाद गांव में पसरा मातम

मां बेटी की मौत के बाद जनुआ गांव में मातम पसरा है। क्योंकि मां पिंकी बच्ची को बचाने के लिए डबरी में छलांग लगाई थी। लेकिन माता पिंकी को तैरना नही आता था। जिसके कारण वह भी इस हादसे का शिकार हो गई। मामले की जानकारी मिलने के बाद शनिवार की सुबह जनकपुर पुलिस ने मौके पर पहुंची. दोनों का शव डबरी से बाहर निकलवा लिया है. पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. साथ ही मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी गई है।

मां ने संतान के लिए दे दी जान

मां ने संतान के लिए दे दी जान

कोरिया जिले में रमदहा जलप्रपात में हादसे के बाद यह दूसरी बड़ी घटना है। लेकिन इस पूरे घटना ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि मां आखिर मां होती है। अपनी डूबती बच्ची को बचाने के लिए जिस जस्बे के साथ पिंकी ने छलांग लगाई, इस बात से इनकार नही किया जा सकता है कि मां अपनी संतान के लिए जान की बाजी लगाने के लिए भी तैयार रहती है। संकट में वह अपने बच्चे के सामने ढाल बनकर खड़ी होती है।

16 बच्चों के बाद अब 17वें के लिए प्रेग्नेंट हुई महिला, 14 सालों से लगातार हो रही गर्भवती, बताई अपनी अजीब इच्छा16 बच्चों के बाद अब 17वें के लिए प्रेग्नेंट हुई महिला, 14 सालों से लगातार हो रही गर्भवती, बताई अपनी अजीब इच्छा

Comments
English summary
Koriya: Mother jumped to save drowning daughter, after this incident people said, mother is mother after all
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X