• search

PM मोदी ने बताया कैसे सस्ता होगा पेट्रोल,आयात में आएगी कमी

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
      PM Modi ने किया बड़ा खुलासा, ऐसे होगी Petrol Diesel के Price में गिरावट | वनइंडिया हिंदी

      नई दिल्ली। पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से हर कोई परेशान है। पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर लगाम लगाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तरीका खोज लिया है। इससे न केवल कीमतों पर लगाम लगेगा बल्कि देश को कम तेल आयात करना पड़ेगा। विश्व जैवईंधन दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि पेट्रोल में एथेनॉल मिलाने के कार्यक्रम की शुरुआत वायपेयी सरकार ने की थी, लेकिन पिछली सरकारों ने इसे गंभीरता से नहीं लिया, लेकिन एनडीए सरकार ने इस कार्यक्रम को गंभीरता से लिया।

       PM Modi targets Rs 12,000 crore saving in oil import bill from ethanol use

      पीएम मोदी ने कहा कि इससे पेट्रोलियम आयात में बड़ी बचत हो सकती है। सरकार जीवाश्म ईंधन के उत्पाद पर गंभीरता से ध्यान दे रही है । सरकार का लक्ष्य अगले 4 सालों में इसे 3 गुना बढ़कर 450 करोड़ लीटर के स्तर पर पहुंचना है। इससे पेट्रोलियम के आयात पर देश का 12,000 करोड़ रुपए बचेगा। पीएम ने कहा कि भारत नवीकरणीय स्रोतों से बिजली उत्पादन के साथ-साथ जैवईंधन के उत्पादन पर भी बल दे रहा है, जिससे कच्चे तेल के आयात पर होने वाले खर्च को कम किया जा सके।

      पढ़ें-7th pay commission: केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगी बड़ी सौगात, PM मोदी जल्द करेंगे बड़ा ऐलान

      पीएम ने कहा कि देश में जैवईंधन की 12 रिफायनरी स्थापित करने की योजना है।सरकार 2022 तक पेट्रोल में 10 प्रतिशत एथेनॉल मिश्रण का लक्ष्य हासिल करेगी, जिसे 2030 तक बढ़ाकर 20 प्रतिशत कर दिया जाएगा। इससे न केवल हम पेट्रोलियम के आयात को कम कर सकेंगे बल्कि देश में रोजगार भी उत्पन्न होंगे। वहीं जैवईंधनों से किसानों की आय बढ़ेगी। प्रधानमंत्री ने इस कार्यक्रम के दौरान वेब पोर्टल 'परिवेश' का उद्घाटन किया।

      जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

      देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
      English summary
      Prime Minister Narendra Modi today set a target to triple ethanol production in four years to help save Rs 12,000 crore in oil import bill by mixing the sugarcane extract in petrol as well as boost farm income.

      Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
      पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

      X
      We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more