• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Mukesh Ambani income: जितना 1 घंटे में कमाते हैं मुकेश अंबानी उतना कमाने में मजदूर को लगेंगे 10000 साल

|

नई दिल्ली। Mukesh Ambani Income. देश के सबसे अमीर इंसान( India's Richest Man) भले ही दुनिया के अमीरों की लिस्ट से बाहर हो गए हो, उनका दबदबा कायम है। रिलांयस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन अरबपति मुकेश अंबानी को सोमवार को 3.6 अरब डॉलर का झटका लगा है और उनकी संपत्ति घटकर अब 75.8 अरब डॉलर हो गई, जिसकी वजह से वो दुनिया के टॉप-10 अरबपतियों( World Top 10 Richest Person) की लिस्ट से बाहर हो गए, लेकिन कोरोना काल में उनकी संपत्ति में तेजी से इजाफा हुआ था। ताजा रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना काल मं अमीर और अमीर हो गए तो वहीं गरीब और गरीब होते चले गए।

Gold-Silver Rate: खुशखबरी, हफ्ते के पहले दिन ही धड़ाम हो गया सोना, चांदी चमकी, जानें कितना सस्ता हुआ गोल्ड

 कोरोना काल में बढ़ी संपत्ति

कोरोना काल में बढ़ी संपत्ति

ऑक्सफैम( Oxfam) की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना महामारी ने देश में अमीरों और गरीबों के बीच की दूरी को और बढ़ा दिया। जहां अमीरों की संपत्ति तेजी स बढ़ी तो वहीं गरीबों के सामने अपनी आजीविका चलाने तक की दिक्कत आ गई। ऑक्सफैम ने अपनी ताजा रिपोर्ट में इसकी जानकरी दी है, जिसमें बताया गया है कि कैसे अमीरों की संपत्ति बढ़ी तो गरीबों की मुश्किल और बढ़ती चली गई।

 हर घंटे 90 करोड़ कमाते हैं अंबानी

हर घंटे 90 करोड़ कमाते हैं अंबानी

ऑक्सफैम( Oxfam) एक वैश्विक संगठन है, जो दुनियाभर में गरीबी उन्मूलन के लिए काम करता है। अपनी रिपोर्ट में ऑक्सफैम ने कहा है कि कोरोना काल में भारतीय अरबपतियों की संपत्ति 35 प्रतिशत बढ़ी है, जबकि लॉकडाउन क कारण गरीबों के लिए आजीविका पर संकट मंडराने लगा। अपनी 'इनइक्वालिटी वायरस' रिपोर्ट में संस्था ने इस बात का जिक्र किया है, जिसमें कहा गया है कि मार्च 2020 के बाद भारत में 100 अरबपतियों की संपत्ति में 12,97,822 करोड़ की बढ़ोतरी हुई।

 एक मजदूर को लगेंगे 10000 साल, जितना अंबानी 1 घंटे में कमाते है

एक मजदूर को लगेंगे 10000 साल, जितना अंबानी 1 घंटे में कमाते है

रिपोर्ट में कहा गया है अंबानी ने कोरोना संकट काल में हर घंटे करीब 90 करोड़ रुपए कमाए। वहीं एक अनस्किल्ड मजदूर को इतना कमाने में 10000 साल लग जाएंगे। वहीं अंबानी ने हर सेकेंड जितना कमाया उसे कमाने में एक मजदूर को 3 साल का वक्त लग जाएगा। ऑक्सफैम ने अपनी इस रिपोर्ट में आय की असमता का जिक्र किया है। ऑक्सफैम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ बेहर ने इस बात का जिक्र किया है कैसे देश में आय की विषमता है, जिसके चलते अमीर और अमीर हो रहे हैं और करोड़ों लोग बेहद मुश्किल से जीवन बिता पा रहे हैं। उन्होंन कहा कि ये असमानता लॉकडाउन के समय और खुलकर सामने आई। आपको बता दें कि इस ऑक्सफैम के इस सर्वे रिपोर्ट के लिए 79 देशों के 295 अर्थशास्त्रियों ने अपनी राय दी है।

 बढ़ी देश के अमीरों की संपत्ति

बढ़ी देश के अमीरों की संपत्ति

रिपोर्ट क मुताबिक देस के अमीरों की संपत्ति कोरोना काल मं तेजी से बढ़ी है, जिसमें रिलायंस इंडस्ट्री के मुकेश अंबानी, गौतम अडाणी, शिव नादर, सायरस पूनावाला, उदय कोटक, लक्ष्मी मित्तल जैसे कई बड़ नाम शामिल है। इनलोगों की संपत्ति कोरोनाकाल में हर सेकेंड बढ़ी जबकि अप्रैल 2020 में हर घंटे 1.7 लाख लोग बेरोजगार हो गए।

अपनी रिपोर्ट में ऑक्सफैम न कहा है कि देश के 24 फीसदी लोग 3000 रुपए प्रति माह क औसत से कमा रहे हैं। वहीं मुकेश अंबानी की संपत्ति अकेले ही 40 करोड़ वर्कर को पांच महीने तक गरीबी रेखा से बाहर निकालने में सक्षम है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A labour take 10000 years to earn as equal to Mukesh Ambani 1 Hour income, Reliance owner earned Rs 90 crore per hour
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X