मां-बाप के मरने के 4 साल बाद बच्चे का हुआ जन्म

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। चीन में एक ऐसे बच्चे का जन्म हुआ है, जिसके माता-पिता की मौत 4 साल पहले हो चुकी थी। कार दुर्घटना में बच्चे के माता-पिता की मौत हो गई थी। इस घटना के 4 साल बाद उनके बच्चे ने जन्म दिया। जिसने भी इस घटना के बारे में सुना वो हैरान रह गया। हालांकि बच्चे के लिए दादा-दादी को काफी लंबी कानूनी लड़ाई लड़नी पड़ी, लेकिन आखिरकार उन्हें उनका वारिस मिल गया। आपको बताते हैं कि आखिर ये चमत्कार हुआ कैसे?

 मां-बाप की मौत के 4 साल बाद बच्चे का जन्म

मां-बाप की मौत के 4 साल बाद बच्चे का जन्म

चीनी मीडिया के मुताबिक साल 2013 में एक दंपत्ति ने आईवीएफ के माध्यम से एक बच्चे को जन्म देने के लिए भ्रूण जमा किए थे, लेकिन बच्चे का जन्म होता इससे पहले ही माता-पिता की कार हादसे में मौत हो गई। कार हादसे के बाद दंपत्ति के माता-पिता ने भ्रूण का इस्तेमाल करने की अनुमति के लिए कानूनी लड़ाई लड़ी। प्रक्रिया काफी लंबी चली, जिसकी वजह से भ्रूण को लंबे वक्त तक संरक्षित करके रखा गया।

सेरोगेसी की मदद से जन्म

सेरोगेसी की मदद से जन्म

रिपोर्ट के मुताबिक बच्चे के दादी-दादी को भ्रूण के लि लंबी लड़ाई लड़नी पड़ी। इस दौरान भ्रूण को चीन के नानजिंग अस्पताल में -196 डिग्री पर नाइट्रोजन टैंक में स्टोर किया गया था। आखिरकार उन्हें फर्टिलाइज्ड एग्स का अधिकार मिला, लेकिन मुश्किलें यहीं खत्म नहीं हुई। अस्पताल ने साफ किया कि उन्हें भ्रूण तभी मिलेगा, जब उनके पास इस बात के दस्तावेज हो कि कोई दूसरा अस्पताल उसे स्टोर करेगा। कोई भी अस्पताल इसके लिए तैयार नहीं हुआ। इसके बाद मृतक दंपत्ति के माता-पिता ने चीन के सीमावर्ती देशों में सेरोगेसी की तलाश की।

 4 साल बाद बच्चे का जन्म

4 साल बाद बच्चे का जन्म

तमाम कोशिशों के बाद लाओस में एक सरौगेसी एजेंसी के माध्यम से भ्रूण को कार से वहां लाया गया। लाओस में भ्रूण को सेरौगेट मदर के गर्भ में प्रत्यारोपित किया गया और दिसंबर 2017 को बच्चे का जन्म हुआ। दादा-दादी ने बच्चे का नाम टिएटियन रखा। बच्चे के जन्म के बाद उसे चीन की नागरिकता नहीं दी जा रही है। बच्चे को ट्यूरिस्ट वीजा पर चीन लाया गया है। दादा-दादी ने डीएनमए टेस्ट के बाद टिएटिएन को उनका वारिस माना गया। हालांकि परिवार अपने बच्चे को पाकर बेहद खुश है।

ये भी पढ़े- बीच सड़क न्‍यूड होने वाली अभिनेत्री श्री रेड्डी और टॉलीवुड निर्माता के बेटे की निजी तस्वीरें लीक, मचा हड़कंप

ये भी पढ़े- दुबई की कोर्ट ने दो भारतीयों को सुनाई 500 साल की सजा, जानिए गुनाह क्या है

ये भी पढ़े- कठुआ गैंगरेप में पुलिस अधिकारी ने कहा था: पहले मैं रेप कर लूं, फिर इसकी हत्या करना

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The parents of a young couple, who were killed in a road accident in 2013, have become grandparents of a baby born through surrogacy.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.