• search
बिलासपुर-छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

इश्क से हारी हिंसा : दंतेवाड़ा में प्रेमी-प्रेमिकाओं के लव लेटर पढ़कर नक्सली कर रहे सरेंडर

|

दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के नक्सली प्रभावित जिले दंतेवाड़ा में पुलिस ने नक्सलियों के खिलाफ इश्क को हथियार बना लिया है। नतीजा यह निकल रहा है कि इश्क के आगे हिंसा हार रही है। प्रेमी-प्रेमिकाओं के लव लेटर पढ़कर नक्सली सरेंडर कर रहे हैं और समाज की मुख्य धारा से जुड़ रहे हैं। ताजा मामले में एक लाख की इनामी महिला नक्सली जयमती ने पुलिस के सामने सरेंडर किया है। जयमती को अपने प्रेमी लक्ष्मण का खत मिलने के बाद उसने सरेंडर का फैसला लिया। दंतेवाड़ा पुलिस की अनूठी पहल के जरिए चार अन्य नक्सलियों को भी सरेंडर करवाया जा चुका है।

प्रेमी लक्ष्मण का लेटर भेजा जयमती को

प्रेमी लक्ष्मण का लेटर भेजा जयमती को

दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव मीडिया से बातचीत में बताते हैं कि जयमती खरतनाक नक्सलियों में से एक है। इस पर एक लाख रुपए का ईनाम तक रखा हुआ है। इसके पास नक्सलियों के लिए प्रचार-प्रसार की जिम्मेदारी है। यह युवक-युवतियों को नक्सली बनाने का काम कर रही है। 20 फरवरी 2020 को जयमती को गुप्त सूत्रों के जरिए उसके प्रेमी लक्ष्मण का लव लेटर भिजवाया गया। पहले लक्ष्मण भी नक्सली था, मगर लक्ष्मण नक्सलवाद का रास्ता छोड़कर पुलिस में शामिल हो गया था।

 शादी और बच्चों वाली जिंदगी चुनना बेहतर समझा

शादी और बच्चों वाली जिंदगी चुनना बेहतर समझा

प्रेमी लक्ष्मण ने प्रेमिका जयमती को खत में लिखा कि वह सरेंडर करने के बाद अच्छी जिंदगी जी रहा है। उसकी तमन्ना है कि जयमती भी उसके साथ खुशहाल जिंदगी बिताएं। प्रेमी के खत का जयमती पर असर हुआ और उसने नक्सवादियों के नियमों के खिलाफ जाकर शादी और बच्चों वाली जिंदगी चुनना बेहतर समझा। नक्सली शादी और बच्चों वाली जिंदगी के खिलाफ होते हैं।

 प्रेमी का खत पढ़कर किया सरेंडर

प्रेमी का खत पढ़कर किया सरेंडर

एसपी अभिषेक पल्लव के मुताबिक प्रेमी लक्ष्मण का लव लेटर मिलने के बाद नक्सली जयमती ने जवाबी ​खत भेजा और सरेंडर करने की इच्छा जताई। साथ ही उसने आशंका जताई कि नक्सली उस पर विशेष नजर रख रहे हैं। सरेंडर करने के प्रयास में उसकी जान को खतरा हो सकता है। जयमती ने सरेंडर के लिए अपने खत में 7 मार्च 2020 शनिवार का दिन और जगह का उल्लेख किया, जिस पर पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता बंदोस्त करके उसका सरेंडर करवाया और अपने साथ लेकर आई।

 प्रेमिका एनकाउंटर में मारी गई तब आया आइडिया

प्रेमिका एनकाउंटर में मारी गई तब आया आइडिया

दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव कहते हैं कि एक नक्सली ने पूर्व में सरेंडर किया था। वह एक नक्सली महिला से प्यार करता था, जो एनकाउंटर में मारी गई। इसके बाद से वह दुखी रहने लगा। ऐसे में पुलिस को लगा कि नक्सलियों की हिंसा पर इश्क भारी पड़ सकता है। वैलेंटाइन 2020 पर दंतेवाड़ा पुलिस ने पता लगाया कि कौन-कौनसे नक्सली महिला-पुरुषों की प्रेमी-प्रेमिकाएं सामान्य जिंदगी जी रहे हैं। ऐसे चार जोड़े मिले। उनसे खत लिखवाए गए और खत में हिंसा छोड़कर खुशहाल जिंदगी की अपील की गई, जिसका सकरात्मक परिणाम सामने आए हैं।

दिल छू लेने वाली लव स्टोरी, वेश्यावृति के दलदल में फंसी थी युवती और फिर

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Naxalite surrender after Reading Love Letter in Dantewada Chhattisgarh
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X