• search
बिहार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

6 बच्चों के पिता ने साले के साथ मिलकर प्रेमिका को नदी में फेंका, नहीं लगने दी थी शादी की भनक

|

भागलपुर। बिहार के भागलपुर जिले के नवगछिया थाना क्षेत्र में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है, जहां प्रेमिका को प्रेमी ने नदी में फेंक दिया। हालांकि पीड़िता को नदी थाने की पुलिस ने मदरौनी गांव के पास जख्मी हालत में बचा लिया। दरअसल, प्रेमिका प्रेमी पर साथ रहने का दबाव बनाने लगी थी, जिससे आजिज होकर युवक ने प्रेमिका को रास्ते से हटाने के लिए नदी में फेंक दिया। हैरान कर देने वाली घटना यह रविवार की रात की है।

पुलिस ने लड़की को डूबने से बचा लिया

पुलिस ने लड़की को डूबने से बचा लिया

वहीं पुलिस ने पीड़िता संजू देवी का बयान दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। संजू देवी ने बताया कि वह मधेपुरा के बभनगामा, बिहारीगंज निवासी अरविंग पासवान की दूसरी पत्नी है। रविवार की देर रात उसे अरविंद विशु राउत पुल पर अपने दोस्त मनीष के साथ लाया था। दोनों ने मिलकर उसे पुल के नीचे फेंक दिया। उसने बताया कि पति की मंशा उसकी जान लेनी थी। लेकिन नदी थाने की पुलिस ने उसे बचा लिया।

सोशल मीडिया के जरिये मिला था युवक

सोशल मीडिया के जरिये मिला था युवक

अरविंद पश्चिम बंगाल की रहने वाली संजू से सोशल साइट पर चैटिंग के माध्यम से एक-दूसरे के करीब हुए थे। अरविंद बीते दो वर्षों से उसे बिहारी गंज में किराये के मकान में लेकर रखा था। उसका सारा खर्च वहीं उठाता था। हाल के महीनों में साथ रहने के बजाय काम का बहाना बनाकर वह कई दिनों से आ नहीं रहा था। जब भी वह बाहर रहने का कारण पूछती तो वह बातों को टाल देता था।

पहली पत्नी को लग गई थी पति के करतूतों की भनक

पहली पत्नी को लग गई थी पति के करतूतों की भनक

पहली पत्नी सोनी देवी को जब इस बात की भनक लगी तो घर में झगड़ा होने लगा। सोनी से अरविंद के 6 बच्चे हैं। विवाद बढ़ा तो अरविंद अपने रिश्ते में चचेरे साले मनीष की मदद से संजू को विशु राउत पुल पर लाया। फिर वहां दोनों ने मिलकर उसे कोसी नदी में फेंक दिया। संजू ने पुलिस को बताया कि आर्थिक तंगी को खत्म करने के लिए प्रेमी अरविंद पासवान झोलाछाप डॉक्टर बन गांव-गांव लोगों का उपचार करता था।

पहली पत्नी से हैं उसको 6 बच्चे

पहली पत्नी से हैं उसको 6 बच्चे

उसे यह नहीं मालूम था कि वह पहले से शादीशुदा है और 6 बच्चों का बाप भी है। उसने प्यार में तो धोखा दिया ही लेकिन वह इतना गिर गया कि उसकी जान लेने की कोशिश की। नदी थानाध्यक्ष मुहम्मद मकबूल ने बताया कि शराब तस्करी प्रकरण में जब्त नाव को लेकर थाने जा रहे थे। उसी समय बचाव-बचाव का शोर मचा रही महिला की आवाज सुनी। वह नदी में बह रही लकड़ी का सहारा लिए हुई थी। तब पुलिस बल के सहयोग से महिला को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया।

विदेश में अनमोल है बासमती चावल की खाली बोरी, हजारों रुपये में ऑनलाइन हो रही है बिक्री

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bhagalpur police save girl whose boyfriend throw her in river
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X