• search
आगरा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

सिम चोरी कर छात्र ने सराफ से मांगी थी 350 करोड़ की रंगदारी, पुलिस ने ऐसे पकड़ा

|

आगरा। पढ़ने लिखने की उम्र में एक इंटर के छात्र ने कुछ ऐसा कारनामा कर दिया, जो अब उसकी लिए मुसीबत का सबब बन गया है। दरअसल, इंटर के छात्र ने पीसी चेन्स के मालिक मनोज गुप्ता से 350 करोड़ की रंगदारी मांग ली। रंगदारी में मांगी गई रकम ही इतनी ज्‍यादा थी कि पुलिस सुनते ही समझ गई कि यह कोई अनाड़ी ही है। जिसके बाद पुलिस ने सर्विलांस की मदद से उसे पकड़ लिया। फिलहाल पुलिस ने आरोपी छात्र को जेल भेज दिया है।

यूपी पुलिस की वर्दी पर लगतार बढ़ रहे हैं बदनामी के तमगे, योगी राज में क्या हो रहा है

    सिम चोरी कर छात्र ने सराफ से मांगी थी 350 करोड़ की रंगदारी, पुलिस ने ऐसे पकड़ा
    क्या है पूरा मामला

    क्या है पूरा मामला

    मिली जानकारी के मुताबिक, कमला नगर निवासी पीसी चेन्स के मालिक मनोज गुप्ता के मोबाइल फोन पर 28 जुलाई को शाम करीब साढ़े सात बजे धमकी भरा फोन कॉल आया। फोन करने वाले ने 350 करोड़ रंगदारी मांगी। रंगदारी न देनेन पर परिवार को खत्म करने की धमकी भी दी। इससे वो दहशत में आ गए। धमकी देने वाले ने खुद को बड़ा बदमाश बताया था, उसका अंदाज भी डरावना था। जिसके बाद मनोज गुप्ता ने इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दी। रकम सुनकर पुलिस भी चौंक गई। पुलिस को शक हुआ कि यह काम किसी पेशेवर बदमाश का नहीं हो सकता।

    सर्विलांस की मदद से पुलिस ने पकड़ा

    सर्विलांस की मदद से पुलिस ने पकड़ा

    एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि पुलिस ने सर्विलांस टीम को लगाया। जिस सिम से कॉल की गई, वो नगला देवजीत निवासी राहुल के नाम पर रजिस्टर्ड था। पुलिस राहुल तक पहुंच गई। उसने इस तरह का कोई कॉल करने से इनकार कर दिया। सर्विलांस की मदद से पता चला कि सिम काफी दिन से बंद भी था। सर्विलांस टीम ने बताया कि सिम भरत के मोबाइल में इस्तेमाल किया गया है। इसे धमकी दिए जाने से पहले रिचार्ज कराया गया था।

    इंटर के छात्र को पुलिस ने किया अरेस्ट

    इंटर के छात्र को पुलिस ने किया अरेस्ट

    सीओ ने बताया कि पुलिस को पता चल गया कि रंगदारी मांगने की कॉल नगला देवजीत में ही रहने वाले भरत चौधरी उर्फ प्रियांशु के मोबाइल से हुई थी। इसके बाद पुलिस ने 18 वर्षीय भरत चौधरी को गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि वह इंटरमीडिएट का छात्र है। भरत के पिता मनोज गुप्ता के यहां 12 वर्ष से काम कर रहे हैं। गुरुवार को आरोपित को पुलिस ने जेल भेज दिया। छात्र ने पुलिस पूछताछ में बताया कि उसने अपने पिता से सुना था कि मनोज गुप्ता के पास काफी पैसा है। उसे लगा कि एक फोन करके रुपए मिल जाएंगे। भरत ने बताया कि वो कारोबारी से ज्यादा रकम लेना चाहता था। इसलिए कहा था कि 10-15 लाख तो शूटरों को देता हूं। इससे कारोबारी डर गए थे।

    भरत ने मोबाइल चुरा लिया था सिम

    भरत ने मोबाइल चुरा लिया था सिम

    पुलिस ने राहुल से भरत चौधरी के बारे में जानकारी ली। उसने बताया कि भरत ने उसका मोबाइल लिया था। वो इसे खोलकर देख रहा था। इसी दौरान चोरी से सिम निकालकर ले गया। वो सिम काफी समय से बंद था। पुलिस ने भरत को पकड़ लिया। उसने कॉल करने की बात कबूल कर ली।

    ये भी पढ़ें:- राम जन्मभूमि की सुरक्षा में तैनात 16 पुलिसकर्मी समेत पुजारी प्रदीप दास कोरोना पॉजिटिव

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    student asked for extortion of 350 crores from Saraf
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X