• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Fact Check: Jio की 5G की टेस्टिंग की वजह से मर रहे पक्षी? जानें हकीकत

|

नई दिल्ली। Fact Check, देश में कोरोना वायरस(coronavirus) का मामला अभी खत्म ही नहीं हुआ था कि बर्ड फ्लू(bird flu) के आगमन ने लोगों की चिंताएं बढ़ा दी हैं। इसी बीच सोशल मीडिया(Social media) पर एक वायरल जिसमें दावा किया जा रहा है कि, रिलायंस जियो(Reliance Jio) द्वारा किए गए 5 जी(5G) टेस्ट के कारण पक्षी मर रहे हैं। यूजर्स का कहना है कि लोगों को मूर्ख बनाया जा रहा है कि बर्ड फ्लू फैल रहा है।

social media claims that birds are actually dying due to 5G tests conducted by Reliance Jio

ट्विटर और फेसबुक कई यूजर्स हिंदी में एक मैसेज शेयर कर रहे हैं। इस मैसे में लिखा है कि, खबर फैल रही है कि Jio के 5G टेस्टिंग से पक्षी मर रहे हैं और लोगों को मूर्ख बनाया जा रहा है कि, बर्ड फ्लू फैल रहा है। वन इंडिया की फैक्ट चेक टीम ने इस वायरल मैसेज की पड़ताल की है। जांच के दौरान एक बेहद सी महत्वपूर्ण जानकारी सामने निकलकर आई। भारत सरकार ने अभी तक 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी नहीं की है तो ऐसे में 5G टेस्टिंग का सवाल ही नहीं उठता है।

इसके अलावा रिलायंस जियो ने भी 5G परीक्षण करने की बात से इनकार किया है। देश के कई राज्यों में पक्षियों की मौतों के कारण एवियन इन्फ्लूएंजा है। जिस कारण से सैकड़ों की संख्या में पक्षियों की मौत हो रही है। दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और गुजरात में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी हैं। राज्य सरकारें चिकन के आयात को रोक रही हैं।

अभी तक केंद्र सरकार ने किसी भी दूरसंचार इकाई को भारत में 5 जी तकनीक का परीक्षण करने की अनुमति नहीं दी है। केंद्रीय आईटी और दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने हाल ही में कहा था कि 5 जी तकनीक के लिए बहुप्रतीक्षित परीक्षण जल्द ही शुरू होंगे। हाल ही में दूरसंचार विभाग ने पहली मार्च से होने वाली स्पेक्ट्रम नीलामी में हिस्सा लेने के लिए आवेदन मंगाए हैं।

WHO में चीनी साजिश: गलत नक्शा दिखाने पर भारत ने दी WHO को चेतावनी, फौरन गलती सुधारे WHO

Fact Check

दावा

बर्ड फ्लू नहीं, Jio की 5G की टेस्टिंग की वजह से पक्षियों की मौत हो रही है।

नतीजा

भारत सरकार ने अभी तक 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी नहीं की है तो ऐसे में 5G टेस्टिंग का सवाल ही नहीं उठता है।

Rating

False
फैक्ट चेक करने के लिए हमें factcheck@one.in पर मेल करें

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X