• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

झारखंड के राज्यपाल बोले- रांची यूनिवर्सिटी में होगी साइबर सिक्योरिटी की पढ़ाई

|
Google Oneindia News

रांची,13 अगस्त: झारखंड का जामताड़ा साइबर क्राइम और साइबर फ्रॉड के लिए देश भर में चर्चा का केंद्र रहा है. इंटरनेट के जरिए वहां से लोगों को ठगने और उनके अकाउंट से पैसे चुटकियों में उड़ा दिए जाने की अनगिनत घटना हुई हैं. लगभग हर राज्य की पुलिस ने जामताड़ा में जांच किसी ने किसी मामले को लेकर की है. लिहाजा साइबर सिक्योरिटी की पढ़ाई अब रांची विश्वविद्यालय में शुरू की गई है. उसके पाठ्यक्रम के लॉन्चिंग के लिए पहुंचे राज्यपाल रमेश बैस ने कहा कि वे साइबर फ्रॉड से इतना डरते हैं कि सिर्फ सेल फोन का इस्तेमाल इनकमिंग और आउटगोइंग कॉल करने के लिए ही करते हैं.

internet

इस दौरान राज्यपाल ने कहा कि इंटरनेट के जरिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाकर साइबर फ्रॉड हो रहा है. इस पर लगाम लगाने के लिए व्यापक स्तर पर साइबर एक्सपर्ट की जरूरत है. लोगों को भी सावधान रहने की जरूरत है. KYC अपडेट या फिर और किसी चीज के लिए स्पैम कॉल को उन्हें आइडेंटिफाई करना पड़ता है. ऑनलाइन धोखाधड़ी ब्लैकमेलिंग और हैकिंग जैसी समस्याएं आम हो गई हैं.

उन्होंने कहा कि लोगों के खाते से केवाईसी अपडेट करने, अकाउंट ब्लॉक करने की बात कहकर साइबर अपराधी पैसे उड़ा ले रहे हैं. साइबर अपराधी तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे हैं. इनाम जीतने से जुड़ा लिंक भेजकर आम लोगों को अपने जाल में फंसाते हैं. आजकल ऑनलाइन शॉपिंग करते समय ई-पेमेंट के दौरान भी सतर्क रहने की जरूरत है. बेकार के लिंक के लालच में पड़ने की जरूरत नहीं है.

Comments
English summary
harkhand Governor Ramesh Bais said that cyber fraud is taking place by adopting various tricks through the Internet
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X