नसबंदी के बाद महिला हुई गर्भवती, डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग

Subscribe to Oneindia Hindi

हरदोई। उत्तर प्रदेश के हरदोई के हरपालपुर कस्बे में नसबंदी कराए जाने के बावजूद महिला गर्भवती हो गई। महिला के पति का आरोप है कि जब उसने अस्पताल में शिकायत की तो मामला दबाने का प्रयास शुरू किया गया। महिला व उसके पति ने जिलाधिकारी से मामले में कार्रवाई किये जाने की मांग की है।

तबियत हुई खराब तक पता चला

तबियत हुई खराब तक पता चला

मामला हरपालपुर थाना क्षेत्र के बेहटा-रंपुरा गांव का है। यहां के निवासी कमलेश पुत्र हरीराम व उसकी पत्नी रेखा ने बताया कि उसने 11 दिसंबर को सीएचसी हरपालपुर में अपनी पत्नी रेखा का नसबंदी ऑपरेशन कराया था। डॉ रजनीश आनंद द्वारा किए गए ऑपरेशन के बाद भी उसकी पत्नी गर्भवती हो गई है। उसके गर्भवती होने की जानकारी उसे तब पता चली जब उसकी तबियत खराब हो गई।

पहले से हैं सात बच्चे

पहले से हैं सात बच्चे

डॉक्टर द्वारा अल्ट्रासाउंड कराने पर मामले का खुलासा हुआ। कमलेश का कहना है कि चूंकि उसके सात बच्चे पहले से हैं और वह बहुत गरीब और असहाय व्यक्ति है। पत्नी के गर्भवती होने के कारण उसे काफी मानसिक व आर्थिक आघात पहुंचा है। उसने नसबंदी करने वाले चिकित्सक पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी से मुआवजा दिलाने की मांग की है।

'कभी-कभी ऑपरेशन हो जाता है फेल'

'कभी-कभी ऑपरेशन हो जाता है फेल'

पीड़ित ने मामले की शिकायत जिलाधिकारी से की है और दिए गए शिकायती पत्र में कहा है कि दोषियों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई जाए। सीएमओ डॉक्टर पीएन चतुर्वेदी का लापरवाही पूर्ण बयान आया। सीएमओ ने कहा कि मामले में पीड़िता एक फॉर्म भर दे, उसको शासन से मुआवजा दिलाया जाएगा। कहा कि कभी-कभी कोई ऑपरेशन फेल हो जाता है।

Read Also: Video: विदेशी को यूं हिंदी में बात करता देख दंग रह गए लोग, वायरल हुआ वीडियो

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A woman became pregnant after sterilization in Hardoi, Uttar Pradesh.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

X