IIT कानपुर में 22 छात्रों का पत्ता साफ, जूनियर्स के साथ कर रहे थे गंदी हरकत

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

कानपुर। आईआईटी कानपुर में जूनियर छात्रों के साथ रैगिंग किए जाने के मामले में सोमवार देर शाम सीनेट की लंबी चली बैठक में कड़ा फैसला लिया गया। मामला इतना गंभीर था कि पांच घंटे चली बैठक में ये निर्णय लिया गया कि आरोपी 16 छात्रों को 3 साल के लिए और 6 छात्रों को एक साल के लिए इंस्टिट्यूट से निकाल दिया जाए।

22 Students of IIT Kanpur been suspended for misbehaving as Ragging

- आईआईटी कानपुर के सीनेट चेयरमैन ने बताया, आरोपी छात्रों ने जो अपनी सफाई दी, वो संतोषजनक नहीं थी। जिसके बाद सीनेट की बैठक में इनको निलंबित करने का फैसला क‍िया गया।

- आरोपी 22 छात्रों में से 16 छात्रों को 3 साल के लिए और 6 छात्रों को एक साल के लिए इंस्टिट्यूट से निकाल दिया गया है।

- मामले की छानबीन करने पर वरिष्ठ प्रोफेसरों ने मामले को सही पाया।

22 Students of IIT Kanpur been suspended for misbehaving as Ragging

- जूनियर छात्रों ने हॉस्टल हॉल-2 के कई सीनियर छात्रों पर आरोप लगाया था कि उनके साथ रैगिंग के दौरान गलत हरकतें की गई थीं। बात नहीं मानने पर कुछ की पिटाई भी की थी।

- पीड़ित छात्रों ने बताया कि उनसे उलटे-सीधे सवाल पूछे गए और अभत्रता की गई।

22 Students of IIT Kanpur been suspended for misbehaving as Ragging

मामले को संज्ञान में लेते हुए सीनेट की बैठक में इन छात्रों को अग्रिम आदेश तक के लिए निलंबित किए जाने के साथ दशहरा की छुट्टी के बाद अपना पक्ष रखने का मौका दिया था। आरोपी छात्रों ने अपना पक्ष रखा लेकिन उनकी दलील काम नहीं आई। सीनेट में ये भी निर्णय लिया गया कि सभी आरोपी छात्र साल भर के अंदर दया की अपील नहीं कर सकेंगे। जब इनके निलंबन का समय पूरा होगा तब नए सिरे से प्रवेश लेना होगा। इन सभी छात्रों को छात्रावास से पहले ही बाहर किया जा चुका है।

Read more: हाईकोर्ट ने कहा 'YES', जाओ इलाहाबाद में चला लो अब हुक्काबार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
22 Students of IIT Kanpur been suspended for misbehaving as Ragging

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.