• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

टीम इंडिया में वापसी पर बोले मयंक अग्रवाल, "मैं कभी हार नहीं मानता; लगातार मेहनत करता रहूंगा

पंजाब किंग्स के कप्तान मयंक अग्रवाल का आईपीएल 2022 में प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा।
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 24 अगस्त: पंजाब किंग्स के कप्तान मयंक अग्रवाल का आईपीएल 2022 में प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा। उन्होंने आईपीएल 2022 में किंग्स के लिए 12 पारियों में 16.33 की औसत और 122.50 के स्ट्राइक रेट से 196 रन बनाए थे। मयंक अग्रवाल की कप्तानी में पंजाब किंग्स ने 14 मैच खेले और 7 में जीत हासिल की। पॉइंट टेबल में उनकी टीम छठे पायदान पर रही। अब महाराजा टी20 ट्रॉफी कर्नाटक में स्थानीय टी20 टूर्नामेंट में उन्होंने बेंगलुरू ब्लास्टर्स के लिए 11 पारियों में 53.33 के औसत और 167.24 के स्ट्राइक रेट से 480 रन बनाए हैं।

ये भी पढ़ें: Asia Cup 2022: भारत के खिलाफ मैच के लिए रिजवान ने कसी कमर, देखें पावर हिटिंग ड्रिल का Videoये भी पढ़ें: Asia Cup 2022: भारत के खिलाफ मैच के लिए रिजवान ने कसी कमर, देखें पावर हिटिंग ड्रिल का Video

बल्लेबाजी पर मेहनत की

बल्लेबाजी पर मेहनत की

अग्रवाल ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से बातचीत में कहा, "पिछले चार महीनों में मैंने अपनी बल्लेबाजी पर वास्तव में कड़ी मेहनत की है। जैसा कि आप देख सकते हैं, मैंने गेंद को स्वीप करना और रिवर्स स्वीप करना शुरू कर दिया है, वह भी तेज गेंदबाजों के खिलाफ।" उन्होंने कहा, "मैंने अपने खेल में चार-पांच क्षेत्र खोले हैं, जो भरपूर लाभ दे रहे हैं। मैं बहुत खुश हूं कि मैंने जो मेहनत की वह अब रंग ला रही है।

दो शतक भी लगाए

दो शतक भी लगाए

अग्रवाल ने कहा, महाराजा ट्रॉफी जैसे टी20 टूर्नामेंट में दो शतक बनाना अद्भुत लगता है। यह वास्तव में अच्छा लगता है जब खिलाड़ी आपकी इच्छानुसार प्रतिक्रिया देते हैं। महाराजा टी 20 ट्रॉफी में उन्होंने 287 गेंदों का सामना किया और अग्रवाल ने 50 चौके-20 छक्के लगाए हैं। के गौतम की शिवमोग्गा स्ट्राइकर्स के खिलाफ 48 गेंदों पर और मनीष पांडे की अगुवाई में गुलबर्गा मिस्टिक्स के खिलाफ 58 गेंदों में शतक बनाया है। आखिरी जीत ने बेंगलुरू ब्लास्टर्स को फाइनल में पहुंचाया।

हार नहीं मानने वाला

हार नहीं मानने वाला

अग्रवाल ने अपने अंतरराष्ट्रीय भविष्य के बारे में कहा, "मैं कोई ऐसा व्यक्ति हूं जो हार नहीं मानने वाला है।" "मैं इसका पीछा करना जारी रखूंगा और हर गुजरते दिन के साथ अपने खेल में सुधार करूंगा। जो कुछ भी मेरे रास्ते में आएगा उससे मैं बहुत खुश रहूंगा, लेकिन आकांक्षाएं और सपने कभी नहीं मरते।

Comments
English summary
Mayank Agarwal said about his international future I am somebody who is not going to give up
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X