• search
रामपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

रामपुर हिंसा: पुलिस की गिरफ्त में जमीर, मां बोली- मजदूर बेटा हो गया गिरफ्तार, अब परिवार है भूखा

|

रामपुर. नागरिकता संशोधन कानून के विरोध-प्रदर्शनों के दौरान हुई हिंसा मामले में पुलिस की धरपकड़ जारी है। उत्तर प्रदेश के रामपुर में पुलिस की कार्रवाई का खौफ साफ देखा जा सकता हैै। यहां एक महिला के बेटे को पुलिस ने बतौर आरोपी गिरफ्तार किया तो वो मीडिया के सामने आई। महिला ने कहा कि मेरा बेटा मजदूरी करता है और मैं कुरान पढ़ाती हूं। ऐसे ही हमारा घर चलता है। मेरे बेटे को पुलिस ले गई है। अब हमारे घर में खाने पीने की परेशानी हो रही है। हमें मांग-मांग कर खाना पड़ रहा है और हम दाने-दाने को मोहताज हो गए हैं।

Rampur, UP Police, CAA violence, Rampur Police, crime,Anti-CAA clashes erupt, Citizenship Amendment Act, रामपुर, यूपी पुलिस, सीएए,

जानकारी के अनुसार, रामपुर पुलिस ने जमीर नाम के शख्स को गिरफ्तार किया था। जमीर की पत्नी तस्लीमा और जमीर की अब मां बड़े परेशान हैं। जमीर की गिरफ्तारी के बाद उनके यहां हाहाकार मचा हुआ है। पत्नी तस्लीमा का कहना है कि मेरे पति मजदूरी का काम करते थे। वे नमाज पढ़कर आए थे तभी पीछे से पुलिस आई और उन्हें पकड़ ले गई। वहीं, मां ने कहा कि पुलिस बेकसूर बेटे को उठा कर ले गई है। हम गरीब लोग हैं और मजदूरी कर गुजारा करते हैं।

पुलिस ने हिंसा के आरोप में रामपुर में ही महमूद नाम के शख्स को भी गिरफ्तार किया है। महमूद की पत्नी शमीमा का कहना है कि मेरे शौहर मजदूरी करते हैं और हमारा किराए का घर है। घर में शौहर के अलावा कोई नहीं है। उनकी गिरफ्तारी के बाद अब खाने-पीने के लाले हो गए हैं। हालात इतने खराब हैं कि खाना मांग कर खाना पड़ रहा है। भूखे पेट भी सोना पड़ा है।

गुजरात में मानव तस्करी: सूरत से अगवा किशोरी को 70 हजार में बेचा, 6 माह तक की दरिंदगी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CAA violence: Rampur Police arrested a man, her mother says- My son not guilty
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X