• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

COVID-19 : भीलवाड़ा में कोरोना से दूसरी मौत, प​त्नी व बेटा भी पॉजिटिव, राजस्थान में कुल 46 केस

By दिलशाद खान
|

भीलवाड़ा। राजस्थान के भीलवाड़ा में कोविड-19 वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शुक्रवार को भीलवाड़ा में कोरोना वायरस के कारण एक और मरीज की मौत हो गई। बीते 14 घंटे के कारण भीलवाड़ा में कोरोना पॉजिटिव की यह दूसरी मौत है।

भीलवाड़ा में सप्ताहभर से कर्फ्यू

भीलवाड़ा में सप्ताहभर से कर्फ्यू

कोरोना वायरस के कारण पूरे देश में 24 मार्च 2020 से 21 दिन के लिए लॉक डाउन घोषित है। राजस्थान के भीलवाड़ा में तो पिछले सप्ताहभर से कर्फ्यू लगा हुआ है, क्योंकि भीलवाड़ा में स्थिति सबसे ज्यादा खराब है। स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर लोगों के स्वास्थ्य की जांच कर रही है।

भीलवाड़ा में कोरोना पॉजिटिव की संख्या हुई 21

भीलवाड़ा में कोरोना पॉजिटिव की संख्या हुई 21

बता दें​ कि 27 मार्च को सुबह नौ बजे तक दो और दोपहर डेढ़ बजे तक एक अन्य मरीज की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सुबह के दोनों ही मामले भीलवाड़ा के हैं। इसके साथ ही भीलवाड़ा में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 21 हो गई है, जो पूरे राजस्थान में अन्य जिलों से सर्वाधिक है। वहीं, राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव केसों का आंकड़ा 46 पहुंच गया है। दोपहर को तीसरा मामला जोधपुर से सामने आया है।

 मां और बेटा भी आए चपेट में

मां और बेटा भी आए चपेट में

भीलवाड़ा में कोरोना के कारण गुरुवार को 73 वर्षीय नारायण सिंह की मौत हुई थी और शुक्रवार को 60 वर्षीय सुवा लाल की मौत की खबर आई है। चौंकाने वाली बात यह है कि सुवालाल की पत्नी जस्सू देवी और बेटे रामेश्वर लाल की भी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

राजस्थान : LockDown में भोमपुरा के ग्रामीणों ने घरों में रहने की शपथ लेकर यूं की गांव में No Entry

 क्या बांगड़ अस्पताल से फैला कोरोना वायरस

क्या बांगड़ अस्पताल से फैला कोरोना वायरस

राजस्थान के भीलवाड़ा में कोराना वायरस फैलना की पुख्ता वजह का तो अभी नहीं चल पाया है, मगर भीलवाड़ा में अब तक जो भी कोरोना पॉजिटिव मामले में आए हैं। उनका संबंध शहर के निजी अस्पताल ब्रजेश बांगड़ अस्पताल से है। भीलवाड़ा के सभी 21 कोरोना पॉजिटिव मामलों में बांगड़ अस्पताल के डॉक्टर, नर्सेज व अन्य स्टाफ और मरीज शामिल हैं। नारायण व सुवालाल का भी वहां अन्य किसी बीमारी के चलते इलाज हुआ था।

 भीलवाड़ा कोरोना मरीज की केस हिस्ट्री

भीलवाड़ा कोरोना मरीज की केस हिस्ट्री

बता दें कि सुवालाल भीलवाड़ा के नजरियावास रायपुर के रहने वाले थे। छह मार्च को सुवालाल को हार्ट अटैक आया था। परिजन उन्हें तुरंत भीलवाड़ा के स्वास्तिक अस्पताल लेकर आए थे। अगले दिन सात दिन को सुवालाल को स्वास्तिक अस्पताल से भीलवाड़ा शहर के ही बागड़ अस्पताल के आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया था। आईसीयू में 9 मार्च तक रहे। फिर 12 और 19 मार्च को सुवालाल को फिर बागड़ अस्पताल में दिखाया गया था।

 25 को कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि

25 को कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि

इसके बाद सुवालाल को कोविड-19 वारयस का संदिग्ध मानते हुए भीलवाड़ा के एमजी राजकीय अस्पताल में भर्ती करवाया गया। 23 मार्च को सुवालाल के स्वास्थ्य की जांच की गई। 25 मार्च को इनमें कोरोना वायरस पॉजिटिव की पुष्टि हुई। सुवालाल को उच्च रक्तचाप और किडनी की भी समस्या थी। 26 मार्च की रात को उनकी मौत हो गई।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Second death from corona in Bhilwara Mother and son also affected
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X