• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पाकिस्तान:ऑटो रिक्शा ड्राइवर के खाते में 300 करोड़ की लेनदेन, जांच में जुटी टीम

|

नई दिल्ली। पाकिस्तान में हाल ही में एक रेहड़ी वाले के खाते में करोड़ों रुपए की लेन-देन का मामला सामने आया था। खाताधारक को पता ही नहीं था। रेहड़ी वाले के बाद अब पाकिस्तान में ऑटो रिक्शा चालक के खाते में 300 करोड़ की लेन-देन का मामला सामने आया है। पाकिस्तान के कराची में ऑटो रिक्शा चालक के खाते में 300 करोड़ की लेन-देन का मामला सामने आया है। पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी एफआईए ने ऑटो रिक्शा चालक को समन जारी कर उससे पैसों की लेन-देन को लेकर पूछताछ की है।

 After Food Vendor, Karachi Auto Driver Stumped by Rs 300 Crore Transactions Via His Account.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ऑटो ड्राइवर का नाम मुहम्मद रशीद है । उसे एक दिन अचानक से एफआईए का नोटिस मिली। नोटिस में खाते से भारी-भरकम लेनदेन को लेकर पूछताछ की गई थी। जांच एजेंसी ने उससे इस लेन-देन को लेकर पूछताछ की है। रशीद ने कहा कि संघीय जांच एजेंसी ने उसे समन जारी कर खाते में 300 करोड़ की लेन-देन की जानकारी मांगी है। उसने कहा कि उसने अब तक 1 लाख रुपए एक साथ नहीं देखे हैं, 300 करोड़ कहां से आए उसके बारे में कोई जानकारी नहीं है।

उसने कहा कि ये खाता उसने साल 2005 में खुलवाया था। उसने कहा कि खाता खुलवाने के बाद कुछ ही महीनों में उसकी नौकरी छूट गई थी। उसने कहा कि मैंने अधिकारियों को अपनी आर्थिक स्थिति के बारे में पूरी जानकारी दे दी है। गौरतलब है कि इससे पहले कराची में एक फल बेचने वाले के खाते में 200 करोड़ की धांधली का मामला सामने आया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
An auto rickshaw driver got the scare of his life when he received a call from Pakistan's top investigation agency which sought an explanation from him about a whopping Rs 300 crore worth of transactions made to his account.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more