• search
मुंबई न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

संजय राउत बोले, अगर महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने के बारे में सोचा भी, तो मैं उन्हें...

|
Google Oneindia News

मुंबई। मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह द्वारा सीएम उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिखकर महाराष्ट्र के गृह मंत्री पर लगाए गए आरोपों को लेकर शिवसेना के नेता संजय राउत ने सोमवार को कहा कि, 'यदि एनसीपी चाहती है कि अनिल देशमुख पर लगे आरोपों की जांच होनी चाहिए तो इसमें गलत क्या है? आरोप कोई भी लगा सकता है। यदि लोग इसी तरह नेताओं के इस्तीफे मांगते रहेंगे तो सरकार चलाना मुश्किल हो जाएगा।'

Sanjay Raut
    Maharashtra Crisis: Sanjay Raut बोले, सबका इस्तीफा लेते रहे तो सरकार चलाना मुश्किल | वनइंडिया हिंदी

    उन्होंने भाजपा द्वारा अनिल देशमुख के इस्तीफे की बात को लेकर कहा कि जब सरकार जांच के लिए तैयार है तो बार-बार इस्तीफे की बात क्यों हो रही है। उन्होंने आगे कहा कि जांच एजेंसियों का इस्तेमाल कर महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की कोशिश की जा रही है। लेकिन ये कदम उन लोगों के लिए ठीक नहीं होगा। अगर ऐसा करने का सोचा तो मैं उन्हें चेतावनी देता हूं कि ये आग उन्हें भी जला देगी।

    मालूम हो कि मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिखकर आरोप लगाया था कि गृहमंत्री अनिल देशमुख ने पुलिस अधिकारी सचिन वाजे से हर महीने 100 करोड़ की उगाही करने ks किए कहा था। इस चिट्ठी ने महाराष्ट्र के राजनीतिक गलियारों में भूचाल ला दिया है तमाम विपक्षी दल गृहमंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं।

    Comments
    English summary
    Sanjay Raut said, Don't even think of imposing President's rule in Maharashtra
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X