• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

प्रियंका बोलीं- बसों पर बीजेपी का झंडा लगा लीजिए, लेकिन परमिशन दीजिए

|

लखनऊ। प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए बस मुहैया कराए जाने के मुद्दे पर कांग्रेस और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार आमने-सामने है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रेस योगी सरकार पर कई आरोप लगाए। प्रियंका ने कहा, हम लोगों की मदद करना चाहते हैं, इसमें राजनीति ना ढूंढें। प्रियंका ने यह भी कहा कि हमें क्रेडिट नहीं चाहिए, आप परमिशन दीजिए। उन्होंने यह भी कहा कि अगर आपको क्रेडिट लेना हो तो चाहें तो आप बसों पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का झंडा लगा लीजिए, इससे 92 हजार लोगों को मदद मिलेगी। हमारी बसें अभी भी खड़ी हैं, लेकिन योगी सरकार अनुमति नहीं दे रही है। प्रियंका गांधी ने कहा, हमने अब तक 67 लाख लोगों की मदद की।

    Priyanka Gandhi ने बस विवाद पर बताई हकीकत, CM Yogi पर किया वार | Migrant Worker | वनइंडिया हिंदी

    priyanka gandhi to yogi govt Let the buses run for the migrants

    प्रियंका ने कहा, यह कठिन समय है। सभी राजनीतिक दल लोगों की मदद में शामिल हों। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी मदद के लिए आगे आई है। हर जिले में हमने वॉलंटियर्स तैनात किए हैं। हाईवे पर टास्क फोर्स बनाए हैं, ताकि ये लोग जरूरतमंदों को मदद करें, खाना दें। 67 लाख लोगों की मदद की है। सेवा का भाव रहा है। बता दें, बसों को लेकर पिछले कुछ दिनों से कांग्रेस और यूपी सरकार के बीच आरोप-प्रत्यारोप चल रहा है। दोनों तरफ से पत्राचार जारी है। उत्तर प्रदेश सरकार का कहना है कि कांग्रेस ने 1000 से अधिक बसों का जो विवरण मुहैया कराया उनमें कुछ दोपहिया वाहन, एंबुलेस और कार के नंबर भी हैं। बसों की लिस्ट में बाइक और टेम्पो के नंबर होने पर प्रियंका गांधी ने कहा कि अगर ऐसे कुछ नंबर हैं भी तो हम नए नंबर देने को तैयार हैं।

    यूपी सरकार पर लगातार हमलावर हैं प्रियंका गांधी

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लगातार योगी सरकार पर हमलावर हैं और एक के बाद एक ट्वीट कर सरकार को असंवेदनशील करार दे रही हैं। इस राजनीति में कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह भी कूद गई हैं। अदिति सिंह ने भाजपा नहीं बल्कि अपनी ही पार्टी को निशाना बनाया है। ट्विटर पर ट्वीट कर वह कांग्रेस पर बरसी हैं। रायबरेली से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने अपनी ही पार्टी को पूरे मसले में कठघरे में खड़ा कर दिया है। अदिति सिंह ने न सिर्फ इसे निम्न सियासत करार दिया है, बल्कि उन्होंने राजस्थान, पंजाब और महाराष्ट्र में बसें नहीं लगाने पर सवाल किया है?

    कांग्रेस विधायक ने अपनी ही पार्टी पर साधा निशाना

    अदिति सिंह ने ट्वीट किया है, 'आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत? एक हजार बसों की सूची भेजी. उसमें भी आधी से ज्यादा बसों का फर्जीवाड़ा. 297 कबाड़ बसें, 98 आटो रिक्शा व एबुंलेंस जैसी गाड़ियां और 68 वाहन बिना कागजात के...ये कैसा क्रूर मजाक है. अगर बसें थीं तो राजस्थान, पंजाब, महाराष्ट्र में क्‍यों नहीं लगाई?' अदिति सिंह ने अगले ट्वीट में कहा, 'कोटा में जब UP के हजारों बच्चे फंसे थे तब कहां थीं ये तथाकथित बसें, तब कांग्रेस सरकार इन बच्चों को घर तक तो छोड़िए, बार्डर तक ना छोड़ पाई,तब श्री @myogiadityanath जी ने रातों रात बसें लगाकर इन बच्चों को घर पहुंचाया, खुद राजस्थान के सीएम ने भी इसकी तारीफ की थी।'

    कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने अपनी ही पार्टी को बनाया निशाना, बोलीं ये क्रूर मजाक है

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    priyanka gandhi to yogi govt Let the buses run for the migrants
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X