• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बस पॉलिटिक्स: प्रियंका के निजी सचिव पर केस के बाद अब डिप्टी सीएम ने कांग्रेस पर लगाया यह आरोप

|

लखनऊ। लॉकडाउन के बीच गैर प्रदेशों से पलायन कर उत्तर प्रदेश वापस लौट रहे प्रवासी श्रमिकों के लिए बस मुहैया कराने को लेकर उत्तर प्रदेश में राजनीति गरमा गई है। इस मामले को लेकर कांग्रेस और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर बुधवार को भी जारी है। वहीं, इस जंग का अखाड़ा उत्तर प्रदेश-राजस्थान का बॉर्डर बना। अनुमति न मिलने के कारण प्रवासी मजदूरों के लिए भेजी गईं कांग्रेस की बसें राजस्थान बॉर्डर पर खड़ी रहीं। इस दौरान जो घटनाक्रम हुआ, उससे प्रदेश की सियासत में हलचल मच गई है।

    UP Bus Politics: Congress State President Ajay Kumar Lallu समेत कई नेता गिरफ्तार | वनइंडिया हिंदी
    कांग्रेस पर लगाया राजनीति करने का आरोप

    कांग्रेस पर लगाया राजनीति करने का आरोप

    उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने लोकभवन में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा कि पंजाब और राजस्थान में प्रवासियों को बसें क्यों नहीं उपलब्ध कराई जा रही हैं। शर्मा ने कांग्रेस पर मजदूरों की वापसी को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इसके अतिरिक्त कोटा में जब बच्चे परेशान हो रहे थे तब राजस्थान सरकार को उनकी याद क्यों नहीं आयी। उस समय 630 बसें योगी सरकार ने राजस्थान भेजकर बच्चों को मंगवाने का काम किया था।

    कांग्रेस की सूची में 460 बसे हैं फर्जी

    कांग्रेस की सूची में 460 बसे हैं फर्जी

    डिप्टी सीएम ने कहा, 'कांग्रेस की महासचिव ने एक हजार बसों की सूची प्रस्तुत की थी। कांग्रेस की सूची में 460 बसें फर्जी निकली जिनका फ़िटनेस भी नहीं था। इसके अलावा 98 एम्बुलेंस, ऑटो, बाइक 68 वाहनों के कागज ही नहीं था। कांग्रेस ने जो सूची दी थी उसमें 460 बसे फर्जी हैं और उसमें भी 297 कबाड़ की हालत में हैं। 297 बसों की कोई फिटनेस नहीं है। इनमें 98 थ्री व्हीलर कार और एंबुलेंस हैं जिनके डिटेल दिए गए हैं।'

    धोखाधड़ी के आरोप में लखनऊ में एफआईआर

    धोखाधड़ी के आरोप में लखनऊ में एफआईआर

    एक हजार बसों की सूची के मामले में लखनऊ आरटीओ आरपी द्विवदी ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप सिंह व प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू पर हजरतगंज कोतवाली में धोखाधड़ी के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई है। उनका आरोप है कि, बसों की सूची की जांच में ऑटो, एंबुलेंस व बाइक के नंबर मिले। वहीं, कुछ बसों के नंबर की पुष्टि नहीं हो पाई। कुछ बसों के नंबर चोरी के वाहन होने की भी आशंका है। यह कार्रवाई मुकदमा अपराध संख्या 145/20 आईपीसी की धारा 420, 467, 468 के तहत हुई है।

    'बुधवार शाम तक बसों के साथ खड़े रहेंगे'

    वहीं, संदीप सिंह ने देर रात एक और पत्र उत्तर प्रदेश सरकार को लिखा। जिसमें सिंह ने आरोप लगाया कि मंगलवार को पूरे दिन इंतजार करने के बाद भी उन्हें बसों के साथ गाजियाबाद और नोएडा जाने नहीं दिया गया। उन्होंने कहा- हम बुधवार शाम चार बजे तक उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर बसों के साथ खड़े रहेंगे। तब तक सरकार कोई सकारात्मक जवाब दे जिससे मजदूरों की मदद हो सके।

    प्रियंका ने ट्विटर पर योगी पर निशाना साधा

    प्रियंका ने ट्विटर पर योगी पर निशाना साधा

    इसके बाद प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया कि यूपी सरकार ने हद कर दी है। अब राजनीति से परे त्रस्त और असहाय प्रवासी भाई-बहनों की मदद करने का मौका मिला तो दुनियाभर की बाधाओं को सामने रख दिया गया। योगी जी इन बसों पर आप चाहें तो भाजपा का बैनर लगवा दीजिए। अपने पोस्टर बेशक लगवा दीजिए लेकिन, हमारे सेवाभाव को मत ठुकराइए। इस राजनीति खिलवाड़ में तीन दिन बर्बाद हो चुके हैं। इन तीन दिनों में हमारे देशवासी सड़कों पर चलते हुए दम तोड़ रहे हैं।

    ये भी पढ़ें:- बसों पर गरमाई राजनीति: अब मायावती ने ट्वीट कर प्रियंका गांधी को दी यह सलाह

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Deputy CM Dinesh Sharma targeted Congress
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X