• search
कानपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

लाश के साथ पांच दिन तक सोती रही बेटी, पूछने पर कहती- आराम कर रही है मां

|

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में एक बेटी अपनी मां के शव के साथ पिछले पांच दिन तक सोती रही है। पड़ोसियों को दुर्गंध आने पर इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे पोस्टमॉर्टम कराया तो महिला की मौत चार से पांच दिन पहले होने की बात सामने आई। पुलिस ने घटना की छानबीन शुरू की है। महिला के मायके वाले बेटी को साथ ले गए हैं।

Daughter was sleeping with her mothera corpse for five days

मामला कानपुर के कल्याणपुर थाना क्षेत्र के आवास विकास संख्या-3 स्थित अंबेडकर नगर का है। सिंचाई विभाग में अकाउंट अफसर रहे मदनलाल द्विवेदी का वर्ष 2005 में देहांत हो गया था। इसके बाद उनकी 61 वर्षीय पत्नी श्यामा देवी ने अंबेडकरपुरम में मकान खरीदा और 19 वर्षीय बेटी अपर्णा के साथ रहने लगी थीं। पति की मौत के बाद मिलने वाले पेंशन से मां बेटी गुजारा कर रही थी।

घर से बदबू आने पर हुआ संदेह

पड़ोसियों के मुताबिक कुछ दिन से श्यामा घर के बाहर दिखाई नहीं दी थीं। अपर्णा दरवाजा खोलकर बाहर बैठ जाती थी और पूछने पर कहती कि मां आराम कर रही है। काफी दिनों से श्यामा को न देखने की वजह से शनिवार को पड़ोसियों ने घर में झाका तो बदबू आई। संदेह होने पर पुलिस को सूचना दी। पुलिस घर के अंदर पहुंची तो रौंगटे खड़े करने वाला नजारा सामने था। मृत श्यामा का शव सड़ चुका था और अपर्णा उससे लिपटकर सोई हुई थी। उसे शव से अगल किया गया तो फफक कर रोने लगी। किसी तरह उसे समझाकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया।

मुखाग्नि देने नहीं आया सौतला बेटा

चौकी प्रभारी आनंद कुमार ने बताया कि शव सड़ चुका था। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर ने शव करीब पांच दिन पुराना होने की बात कही है, विसरा सुरक्षित किया गया है। भाभी सर्वेशलता ने बताया कि मदनलाल ने श्यामा से वर्ष 1992 में दूसरी शादी की थी। उनकी पहली पत्नी से एक बेटा विजय है, जो अपनी पत्नी बच्चों संग लखनऊ इंदिरानगर में रहता है। सौतेले बेटे से संपर्क करके मां के मौत की जानकारी दी तो उसने आने से इंकार कर दिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Daughter was sleeping with her mothera corpse for five days
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X