• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

विश्व की सबसे प्राचीन सभ्यता कौन है? सुमेरियन संस्कृति में मिले मंदिर और पुरोहितों के निशान से उलझी गुत्थी

अमेरिकी इतिहासकार सैमुअल नूह क्रेमर के अनुसार, सुमेरियों ने अपने शहरों में जिगगुराट्स नामक विशाल मंदिरों का निर्माण करवाया और उन मंदिरों में पुरोहितों की मौजूदगी के सबूत भी मिले हैं...

Google Oneindia News

नई दिल्ली, सितंबर 13: सहस्राब्दियों में अनगिनत सभ्यताओं का उत्थान और पतन हुआ है। लेकिन रिकॉर्ड पर सबसे पुराना कौन सा है? इस बात को लेकर वैज्ञानिकों के बीच अभी भी मतभेद बने हुए हैं। हालांकि, करीब 30 साल पहले इस सवाल का सीधा सा जवाब लगता था, जब लगभग 4000 ईसा पूर्व, सुमेरियन संस्कृति का प्रारंभिक चरण मेसोपोटामिया क्षेत्र में सबसे पुरानी सभ्यता के रूप में उभरा था, जिसका ज्यादातर हिस्सा अब ज्यादातर इराक में है। लेकिन, पिछले कुछ दशकों में वैज्ञानिकों के बाद और भी कुछ ऐसे सबूत लगे हैं, जिसने विश्व की सबसे प्राचीन सभ्यता की पहेली को और उलझा दिया है।

सुमेरियन सभ्यता से उलझी पहेली

सुमेरियन सभ्यता से उलझी पहेली

सुमेरियों का नाम प्राचीन शहर सुमेर के नाम पर रखा गया है, जो पूर्वी इराक में आधुनिक शहर कुट से कुछ मील दक्षिण में स्थित था। पुरातत्वविद सबसे पुराने सुमेरियन चरण को उरुक काल कहते हैं, जो दक्षिण-पश्चिम में लगभग 50 मील (80 किलोमीटर) की दूरी पर समान रूप से प्राचीन शहर उरुक के बाद स्थिति है, जहां कई सबसे पुरानी सुमेरियन कलाकृतियां पाई गई थीं। लेकिन पिछले कुछ दशकों में सामने आए सबूतों से संकेत मिलता है कि, सुमेरियों के पास मौजूद "सबसे पुरानी सभ्यता" होने के खिताब को प्राचीन मिस्र सहित कुछ और सभ्यताएं छीनने के लिए तैयार हैं। जिस परिभाषा के तहत सभ्यता का निर्माण होता है, वो अस्पष्ट है, लेकिन आम तौर पर एक संस्कृति को कई पहचान हासिल करनी होती है, तब जाकर उसे सभ्यता का खिताब मिलता है।

कैसे मिलता है सभ्यता का खिताब

कैसे मिलता है सभ्यता का खिताब

किसी सभ्यता को मान्यता देने के लिए उसे कई पैमानों पर परखा जाता है, जैसे उसका शहरीकरण, यानी शहर - सिंचाई और लेखन, और सुमेरियों के पास ये तीनों चीजें थे। लगभग 2000 ईसा पूर्व के बाद सुमेरियन सभ्यता सीधे मेसोपोटामिया में बेबीलोनियन सभ्यता की ओर ले गई, जिसमें गणितीय थ्योरम्स जैसे त्रिकोणमिति और अभाज्य, वर्ग और घन संख्याओं की खोज करने का श्रेय दिया जाता है, जो 1,000 साल से ज्यादा के प्राचीन यूनानियों द्वारा विकसित अवधारणाएं हैं।

सुमेरियों ने बनवाए विशालकाय मंदिर

सुमेरियों ने बनवाए विशालकाय मंदिर

अमेरिकी इतिहासकार सैमुअल नूह क्रेमर के अनुसार, सुमेरियों ने अपने शहरों में जिगगुराट्स नामक विशाल मंदिरों का निर्माण करवाया और उन मंदिरों में पुरोहितों की मौजूदगी के सबूत भी मिले हैं, जिससे पता चलता है, कि सुमेरियन सभ्यता में देवताओं की पूजा की जाती थी और सुमेरियन सभ्यता में पूजा प्रथा का आविष्कार हो चुका था और लोग धार्मिक हो गये थे। विशाल सुमेरियन पंथ में कौन से देवता सबसे शक्तिशाली थे, यह स्थान और समय पर निर्भर करता था। इस सभ्यता में आकाश के देवता को अनु कहा जाता था। उदाहरण के लिए, उरुक की शुरुआत में लोकप्रिय थे, जबकि सुमेर में तूफान के देवता एनिल की पूजा की जाती थी। "स्वर्ग की रानी" को इन्ना कहा जाता था। और माना जाता है, कि वो शायद उरुक में प्रजनन देवी रही होंगी। उनकी पूजा अन्य मेसोपोटामिया के शहरों में फैली हुई थी, जहां उन्हें ईशर के नाम से जाना जाता था, और हो सकता है कि, इसने बाद में आने वाली सभ्यताओं को प्रभावित किया हो और हित्तियों और ग्रीक की सभ्यताओं में जिन देवताओं की पूजा के निशान मिले हैं, हो सकता है वो सुमेरियन सभ्यता से प्रभावित हों।

प्रचलित हैं कई कहानियां

प्रचलित हैं कई कहानियां

इस सभ्यता की कई कहानियां भी प्रचलित हैं और एक कहानी हिब्रू बाइबिल के नूह की तरह है, जिसने दैवीय क्रोध के कारण आई एक भीषण बाढ़ के दौरान अपने परिवार को बचाने के लिए जानवरों के साथ एक जहाज का निर्माण किया था, ये कहानी गिलगमेश के महाकाव्य में संबंधित है। पुरातत्वविदों को लगता है कि, यह मूल रूप से लगभग 2150 ई.पू. की एक सुमेरियन कहानी थी, जिसे सदियों पहले हिब्रू संस्करण लिखा गया था। कुछ विद्वानों का तर्क है कि, अन्य सभ्यताएं सुमेरियों की तुलना में उतनी ही पुरानी या उससे भी पुरानी हो सकती हैं। फिलाडेल्फिया के पेन संग्रहालय के बेबीलोनियन खंड में सहयोगी क्यूरेटर और संग्रह के रखवाले फिलिप जोन्स ने कहा कि, "मैं कहूंगा कि मिस्र और सुमेर मूल रूप से अपने उद्भव में समकालीन थे।"

मेसोपोटामिया में अभी भी रहस्य बाकी

मेसोपोटामिया में अभी भी रहस्य बाकी

दशकों से इराक भीषण युद्ध और अराजकता में फंसा रहा है और अभी भी इराक अशांत ही है, लिहाजा पुरातत्वविदों के लिए मेसोपोटामिया की साइटों तक पहुंचना मुश्लिक हो गया है और पिछले कई सालों से एक भी पुरातत्वविद इन साइटों पर नहीं पहुंचे हैं। लेकिन, मिस्र के वैज्ञानिकों ने मिस्र में सभ्यताओं की खोज के लिए खुदाई जारी रखी है। जोन्स ने लाइव साइंस को बताया कि, इसका परिणाम यह हुआ कि मिस्र में पुरातत्वविदों ने अब सुमेर के शुरुआती लेखन की खोज कर ली है, जिससे पता चलता है कि, प्राचीन मिस्र की सभ्यता का सबसे पुराना चरण लगभग उसी समय उभरा था जब सुमेरियन का प्रारंभिक चरण था और ये सभ्यता लगभग 4000 ई.पू. अस्तित्व में रहा होगा।

सिंधु घाटी सभ्यता को लेकर दावे

सिंधु घाटी सभ्यता को लेकर दावे

वहीं, मिस्र और सुमेरियन सभ्यता के अलावा सिंधु घाटी सभ्यता को लेकर भी कहा जाता है, कि दुनिया की सबसे पुरानी सभ्यताओं में से एक हो सकता है, जो कि अब अफगानिस्तान, पाकिस्तान और उत्तर-पश्चिमी भारत के कुछ हिस्सों में स्थित है। पहले ये भारत का हिस्सा हुआ करता था और कम से कम 3300 ईसा पूर्व तक के सबूत सिन्धु घाटी की सभ्यता से मिले हैं। यहां मिली कलाकृतियों से इस सभ्यता की अवधि और प्राचीनता के बारे में कई बातें पता चली हैं। लेकिन "हमें सिंधु घाटी में बहुत शुरुआती चीजें अभी भी मिल सकती हैं।"

और सबूत मिलने की संभावना

और सबूत मिलने की संभावना

जोन्स ने कहा कि, "यह मुझे आश्चर्य नहीं होगा अगर हम फिर से खुदाई करें, तो हमारे हाथ अभी भी बहुत कुछ मिल सकता है।" हालांकि, जोन्स को संदेह है कि हिंद महासागर के किनारों के साथ शुरुआती व्यापार ने इन शुरुआती सभ्यताओं को विकसित होने में मदद की, जैसे लाल सागर के पास मिस्र की सभ्यता का विकास, फारस की खाड़ी के उत्तरी छोर पर सुमेरियन सभ्यता का विकास, और सिंधु घाटी सभ्यता जो पूर्व हिस्से में मिली, लेकिन यहां के लोग संसाधनों की खोज में दूर-दूर तक जाते थे। उन्होंने कहा कि, "मेरी आंतरिक की भावना यह है कि, हिंद महासागर में शायद कुछ व्यापार नेटवर्किंग चल रही थी और शायद किसी तरह की और सभ्यता रही होगी।"

धरती पर चांद उतारने जा रहा UAE, दुबई में बने रहे 'दसवें आश्चर्य' को देख दुनिया हैरान, बुर्ज खलीफा भी फेल!धरती पर चांद उतारने जा रहा UAE, दुबई में बने रहे 'दसवें आश्चर्य' को देख दुनिया हैरान, बुर्ज खलीफा भी फेल!

Comments
English summary
Which is the oldest civilization in the world? Scientists confused between Sumerians, Mesopotamians and the Indus Valley.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X