• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सुलेमानी की हत्या पर डोनाल्ड ट्रंप ने कहा-दुनिया के नंबर 1 आंतकी को हमने मारा

|

नई दिल्ली। अमेरिका और ईरान के बीच तनाव पर दुनियाभर की निगाहें टिकी हुई है। ईरानी सेना के शीर्ष जनरल कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ गया है। ईरान ने बदले की कार्रवाई में इराक में अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर मिसाइल हमले किए। वहीं अमेरिका ने ईरान को चेतावनी भी जारी की। वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि कासिम सुलेमानी की हत्या जरूरी थी। उसे दुनिया का नंबर 1 आतंकवादी बताया है। ट्रंप ने कहा कि सुलेमानी ने अमेरिकी सहित कई लोगों की हत्या कि इसलिए उसे माना गया।

 US President Donald Trump

ईरान पर किए गए एयरस्टा्रक को लेकर राष्ट्रपति ट्रंप को लगातार विरोध का सामना करना पड़ रहा है। विरोधी डेमोक्रेट्स ने ट्रंप के खिलाफ आवाज बुलंद किया है और सुलेमानी की मौत पर सवाल उठाए है। डेमोक्रेट सांसद और यूएस हाउस स्पीकर नैंसी पेलोसी ने ट्रंप पर अमेरिकी सैनिक और नागरिकतों की जिंदगी खतरे में डालने का आरोप लगाया। वहीं यूएस संसद को इस हमले की जानकारी न देने का आरोप लगाते हुए निशाना साधा। डेमोक्रेट के इन आरोपों पर ट्रंप ने पलटवार करते हुए कहा कि हमने कासिम सुलेमानी को मारा है, जो दुनिया का नंबर 1 आतंकी था, उसने कई अमेरिकियों को मारा था। अन्या नागरिकों को मारा, इसलिए हमने उसे मारा। वहीं उन्होंने डेमोक्रेट्स के आरोपों को लेकर कहा कि यह देश का अपमाना है।

इन सब के बीच एक अमेरिकी समाचार संस्था ने दावा किया है कि सुलेमानी की हत्या में आंतरिक तौर पर इजरायल ने अमेरिका की मदद की थी। अमेरिका के एनबीसी न्यूज रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया गया है कि 3 जनवरी को अमेरिका द्वारा जनरल सुलेमानी को मारने के लिए शुरू किए गए सैन्य ऑपरेशन में इजरायल ने अमेरिका की मदद की। इजराइल ने कई खुफिया जानकारी अमेरिकी एजेंसियों तक पहुंचाए।

रिपोर्ट के मुताबिक इजरायल ने अमेरिका को सुलेमानी की इराक के सोलीमनी दमिश्क से बगदाद की उड़ान की जानकारी दी। बता दें कि ईरान और इजराइय के संबंध भी मधुर नहीं है। ईरान पहले ही इजराइल को अमेरिका का एजेंट मानता रहा है।

ईरान को अमेरिका की चेतावनी,प्रदर्शनकारियों को न मारने की हिदायत,कहा-बातचीत के दरवाजे अभी भी खुलेईरान को अमेरिका की चेतावनी,प्रदर्शनकारियों को न मारने की हिदायत,कहा-बातचीत के दरवाजे अभी भी खुले

English summary
US President Donald Trump: We killed Soleimani ,number one terrorist in the world by every account. That person killed a lot of Americans&lot of people, we killed him.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X