• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

श्रीलंका नहीं ये चार देश हैं चीन के सबसे बड़े कर्जदार, जब चाहे तब कर सकता है इन्हें बर्बाद

फोर्ब्स ने 2020 तक विश्व बैंक की रिपोर्ट से डेटा एकत्र करते हुए कहा कि दुनिया भर के 97 देश चीनी कर्ज में हैं। चीन के भारी कर्ज वाले देश ज्यादातर अफ्रीका में स्थित हैं
Google Oneindia News

कोलंबो, 12 सितंबरः श्रीलंका, पाकिस्तान और मालदीव चीन के सबसे बड़े कर्जदारों में से एक हैं। फोर्ब्स मैगजीन के मुताबिक, पाकिस्तान पर चीन का 77.3 अरब डॉलर का विदेशी कर्ज है। वहीं, अगर मालदीव की बात की जाए तो इस देश का कर्ज उसकी सकल राष्ट्रीय आय (जीएनआई) का 31 फीसदी है। द आइलैंड ऑनलाइन की रिपोर्ट के अनुसार, मालदीव का कुल कर्ज 2020 के अंत तक एमवीआर 86 बिलियन है, जिसमें से एमवीआर 44 बिलियन विदेशी कर्ज है।

97 देशों ने चीन से ले रखा है कर्ज

97 देशों ने चीन से ले रखा है कर्ज

फोर्ब्स ने 2020 तक विश्व बैंक की रिपोर्ट से डेटा एकत्र करते हुए कहा कि दुनिया भर के 97 देश चीनी कर्ज में हैं। चीन के भारी कर्ज वाले देश ज्यादातर अफ्रीका में स्थित हैं, लेकिन मध्य एशिया, दक्षिण पूर्व एशिया और प्रशांत में भी पाए जा सकते हैं। वन बेल्ट एंड रोड योजना के तहत चीन ज्यादातर देशों में पहुंच रहा है। दुनिया के कम आय वाले देशों ने 2022 में चीन को अपने कर्ज का 37 फीसदी हिस्सा दिया है, जबकि बाकी दुनिया के लिए सिर्फ 24 फीसदी द्विपक्षीय कर्ज है।

पाकिस्तान ने सबसे अधिक ले रखा है कर्ज

पाकिस्तान ने सबसे अधिक ले रखा है कर्ज

द आइलैंड आनलाइन की रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया भर में बंदरगाह, रेल और भूमि के बुनियादी ढांचे के निर्माण के वित्तपोषण के लिए चीनी वैश्विक परियोजना, चीन के लिए ऋण का एक महत्वपूर्ण स्रोत रही है। जिन लोगों पर चीन का सबसे अधिक विदेशी कर्ज है, उनमें पाकिस्तान 77.3 अरब डॉलर, अंगोला 36.3 अरब डॉलर, इथियोपिया 7.9 अरब डॉलर, केन्या 7.4 अरब डॉलर और श्रीलंका 6.8 अरब डॉलर हैं।

मालदीव ने भी ले रखा है खूब कर्ज

मालदीव ने भी ले रखा है खूब कर्ज

मालदीव अखबार ने बताया कि वित्त मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 2022 की पहली तिमाही के अंत तक मालदीव का कर्ज बढ़कर एमवीआर 99 बिलियन हो चुका है। यह सकल घरेलू उत्पाद का 113 प्रतिशत था। सापेक्ष दृष्टि से सबसे बड़े ऋण बोझ वाले देश जिबूती और अंगोला थे, जहां चीन को ऋण सकल राष्ट्रीय आय के 40 प्रतिशत से अधिक था। चीनी ऋण में जीएनआई के 30 प्रतिशत या उससे अधिक की सूची में मालदीव और लाओस जैसे देश आते हैं।

श्रीलंका का लिस्ट में पांचवां स्थान

श्रीलंका का लिस्ट में पांचवां स्थान

रिपोर्ट के मुताबिक चीन से सबसे अधिक कर्ज लेने वाले देशों की लिस्ट में श्रीलंका का स्थान पांचवां है। श्रीलंका ने जीएनआई का 9 फीसदी कर्ज चीन से ले रखा है। इन दिनों चीन द्वारा बुरे कर्ज देकर देशों को गहरे आर्थिक संकट में ढकेलने की प्रथा को लेकर चीन की आलोचना हो रही है। चीन इस आलोचना को खारिज करता आया है। बीजिंग का कहना है कि उसकी छवि खराब करने के लिए कुछ देश ऐसा प्रोपैगेंडा फैला रहे हैं।

लादेन नहीं, शेख मोहम्मद था 9/11 का मास्टरमाइंड, दुनिया की सबसे खतरनाक जेल में है कैदलादेन नहीं, शेख मोहम्मद था 9/11 का मास्टरमाइंड, दुनिया की सबसे खतरनाक जेल में है कैद

Comments
English summary
Sri Lanka, Pakistan and Maldives become China's biggest borrowers; Forbes report revealed
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X