उत्तर कोरिया के लोगों ने नहीं देखी ट्रंप-किम की मुलाक़ात, मगर क्यों?

Posted By: BBC Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
    उत्तर कोरिया के टीवी पर मुलाक़ात का प्रसारण नहीं किया गया
    BBC
    उत्तर कोरिया के टीवी पर मुलाक़ात का प्रसारण नहीं किया गया

    पूरी दुनिया के समाचार चैनल और मीडिया हाउस इस वक्त अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन की ऐतिहासिक मुलाक़ात की चर्चा कर रहे हैं. तमाम जगहों पर इस मुलाक़ात की लाइव कवरेज़ दिखाई गई.

    किम जोंग उंग और डोनल्ड ट्रंप की हाथ मिलाते, साथ हंसते और सिंगापुर के होटल के गार्डन में साथ-साथ टहलने के वीडियो और तस्वीरें सभी जगह छाई हुई हैं.

    जिस वक्त दुनिया भर के समाचार जगत में उत्तर कोरिया की चर्चा हो रही है, ठीक उसी समय उत्तर कोरिया के समाचार चैनलों पर क्या दिखाया जा रहा है, इसको लेकर भी आपकी दिलचस्पी हो सकती है.

    ऐेसे में आपको ये जानकर अचरज हो सकता है कि उत्तर कोरिया में ट्रंप और किम की मंगलवार को हुई ऐतिहासिक मुलाक़ात को दिखाया ही नहीं गया है.

    उत्तर कोरिया के सरकारी टीवी चैनल कोरियन सेंट्रल टेलीवीजन (केसीटीवी) में किम और ट्रंप की मुलाक़ात के बारे में कुछ नहीं बताया गया.

    उत्तर कोरिया के सरकारी चैनल का प्रसारण भारतीय समयानुसार सुबह 11.30 बजे शुरू होता है. इस समय जो समाचार बुलेटिन प्रसारित किया गया उसमें सिर्फ़ इतना बताया गया कि किम जोंग उन सिंगापुर के दौरे पर हैं.

    प्रसारण की शुरुआत देशभक्ति के एक गाने से हुई, उसके 10 मिनट बाद एक महिला समाचार वाचक ने किम के सिंगापुर दौरे की ख़बर सुनाई लेकिन इसमें कोई वीडियो या तस्वीरें नहीं दिखाई गईं.

    वहीं अगर उत्तर कोरिया की सत्ताधारी दल के समाचार पत्र रोडोंग सिनमुन की बात करें तो उसमें किम जोंग उन के सिंगापुर दौरे से जुड़ी 14 तस्वीरें प्रकाशित की गई हैं.

    इनमें किम के सिंगापुर के अधिकारियों से मिलने की तस्वीरें ही हैं.

    सरकारी रेडियो में भी सिर्फ किम जोंग उन के सिंगापुर पहुंचने और वहां अलग-अलग अधिकारियों से मिलने की ख़बरें ही प्रसारित की गई हैं.

    चीन में कैसे हुआ प्रसारण

    किम जोंग उन और डोनल्ड ट्रंप की इस मुलाक़ात पर चीन भी नज़रें गड़ाए हुए था. चीन के सरकारी चैनल सीजीटीएन ने इस मुलाक़ात का सीधा प्रसारण किया.

    चीन की सरकारी चैनल के एक संवाददाता सिंगापुर में मौजूद थे तो दूसरे स्टूडियो में थे. आपस में इस मुलाक़ात की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि यह बहुत ही हैरानी भरा होगा अगर उत्तर कोरिया अमरीका से सुरक्षा की गारंटी लिए बिना अपने परमाणु हथियारों को नष्ट करने के लिए मान जाए.

    चीन की एक अन्य वेबसाइट गुआन्चा डॉट सीएन पर किम और ट्रंप की मुलाक़ात टॉप न्यूज़ बनी रही. वहीं सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने इस मुलाकात से पहले एक ऑनलाइन लेख पोस्ट किया.

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    North Koreas people did not see Trump Kim meeting but why

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X