• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पाकिस्तान में धर्म गुरू और पाक सेना के डीजी आईएसपीआर आपस में भिड़े

|

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में इन दिनों चल रही सियासी उठापटक के बीच पाक की सेना और धर्म गुरू आपस में भिड़ गए हैं। दरअसल इमरान खान सरकार के खिलाफ पाकिस्तान के सबसे बड़े धार्मिक गुट जमीयत उल इस्लाम के प्रमुख मौलाना फजुल उर रहमान ने आजादी मार्च निकाला था। इस दौरान शुक्रवार को उन्होंने पाक सरकार पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि सभी देशभक्त पाकिस्तानियों को इस मार्च में शामिल होना चाहिेए। मौलाना ने कहा कि देश पर शासन करने का अधिकार सिर्फ पाकिस्तान के लोगों को है, किसी संस्थान को नहीं।

Asif gafoor

मौलाना के बयान के बाद पाकिस्तान सेना भड़क गई है और आईएसपीआर के डायरेक्टर जनरल मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कि आखिर अपने भाषण में मौलाना किसकी बात कर रहे थे, उन्हें साफ करना चाहिए। मेजर गफूर ने कहा कि आजादी मार्च में मौलाना आखिर किस संस्थान न की बात कर रहे थे उन्हें स्पष्ट करना चाहिए। मेजर गफूर के बयान के बाद मौलाना फजलुर रहमान ने मेजर जनरल आसिफ गफूर पर तीखा पलटवार किया है।

मौलाना ने कहा कि हमे नहीं पता है कि आखिर किस आधार पर उन्होंने यह बयान जारी किया है। उन्होंने कहा कि बयान तो किसी राजनीतिक दल की ओर से आना चाहिए था नाकि डीजी आईएसपीआर की ओर से क्योंकि वह देश की सेना के प्रतिनिधि हैं। इससे पहले मौलाना ने कहा था कि यह हुकूमत जाली हुकूमत है, इसे जनृता ने जनादेश नहीं दिया है, यह इसे फौज लेकर आई है। हम इस हुकूमत को खत्म करने के लिए आए हैं। उन्होंने कहा था कि हम इस्लाम और जम्हूरियत को आजाद कराने आए हैं। जबतक यह आजाद नहीं होता हम वापस नहीं जाएंगे।

इसे भी पढ़ें- नवाज शरीफ की हालत गंभीर बनी हुई है, प्लेटलेट्स काउंट 25000 हुईइसे भी पढ़ें- नवाज शरीफ की हालत गंभीर बनी हुई है, प्लेटलेट्स काउंट 25000 हुई

English summary
Maulana Fazlur Rehman hits on the statement of DG ISPR.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X