• search

रूसी व्यापारी की मौत कहीं हत्या तो नहीं!

By Bbc Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    रूसी जासूस को ज़हर देने का मामला अभी सुर्खियों में बना ही हुआ है और इस बीच ब्रिटेन की पुलिस ने दक्षिण पश्चिम लंदन में रूसी व्यापारी निकोलाई ग्लुसकोव की मौत की जांच हत्या की आशंका के साथ शुरू कर दी है.

    68 वर्षीय ग्लुसकोव बीते 12 मार्च को अपने घर में मृत पाए गए थे, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उनकी मौत का कारण गले में पड़ने वाले दबाव को बताया गया था.

    रूसी जासूस सर्गेई स्क्रिपल और उनकी बेटी यूलिया पर हए कथित नर्व एजेंट के हमले के दो हफ्ते बाद अब यह नई जांच शुरू हुई है. रूसी जासूस पर हमला ब्रिटेन के शहर सलिस्बरी में हुआ था.

    हालांकि ब्रिटेन की पुलिस का कहना है कि इन दोनों मामलों की जांच का आपस में कोई संबंध नहीं है.

    पुतिन पर निशाना

    रूसी व्यापारी निकोलाई ग्लुसकोव की मौत की जांच
    Getty Images
    रूसी व्यापारी निकोलाई ग्लुसकोव की मौत की जांच

    ब्रिटेन के विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन ने एक बार फिर स्क्रिपल को जहर देने के पीछे रूस का हाथ होने की बात कही है.

    बोरिस जॉनसन ने कहा, '' इस बात की बहुत हद तक संभावना है कि रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने ही स्क्रिपल को जहर देने का आदेश दिया हो. दूसरे विश्व युद्ध के बाद ब्रिटेन में यह अपने तरह की पहली घटना है.''

    वहीं रूस लगातार अपने ऊपर लग रहे आरोपों को खारिज कर रहा है, उसका कहना है कि ब्रिटेन तमाम आरोपों के संबंध में पुख्ता सबूत पेश करे.

    रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा, ''मैं यह साफ कर देना चाहता हूं कि रूस पर लगाए जा रहे तमाम आरोप निराधार हैं, उनमें कोई सच्चाई नहीं है.''

    बीबीसी संवाददाता डेनी शॉ का कहना है कि रूसी व्यवसायी निकोलाई ग्लुसकोव की मौत की जांच में एक ख़ास बात नज़र आ रही है और वो ख़ास बात ये है कि इस मामले की जांच का ज़िम्मा चरमपंथ निरोधक पुलिस को सौंपा गया है.

    ध्यान देने वाली बात ये भी है कि रूसी व्यवसायी निकोलाई ग्लुसकोव पर रूस में बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी करने के आरोप थे.

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Do not kill the Russian businessman anywhere

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X