• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

विश्व बैंक-IMF विकास समिति मीटिंगः वित्त मंत्री ने महामारी नियंत्रण के लिए उठाए कदमों को साझा किया

|

नई दिल्ली। विश्व बैंक-आईएमएफ की विकास समिति की बैठक में शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल हुईं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने भारत में कोरोनावायरस से निपटने के लिए किए गए उपायों को साझा किया। वित्त मंत्रालय के मुताबिक बैठक में वित्त मंत्री द्वारा सरकार द्वारा पहले प्रोत्साहन के रूप में गरीबों को सीधे नकद हस्तांतरण और खाद्य सुरक्षा उपायों के तहत मुहैया कराए गए 2300 करोड़ डॉलर की जानकारी भी साझा की गई।

    Corona Crisis: World Bank ने कहा- 1930 के बाद सबसे गहरी मंदी से जूझ रही है दुनिया | वनइंडिया हिंदी

    FM

    केंद्र सरकार ने सर्वाधिक कोरोना प्रभावित 5 राज्यों के लिए बनाई हाई लेवल टीम

    बैठक में वित्त मंत्री सीतारमन ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी के स्पष्ट आह्वान के आधार पर आत्मनिर्भर भारत के लिए 27100 करोड़ डॉलर के विशेष आर्थि्क पैकेज का प्रोत्साहन दिया गया। इस दौरान वित्त मंत्री ने वित्त वर्ष 2020 की चौथी तिमााही में मजबूत प्रदर्शन का स्वागत किया, जिसमें विश्व बैंक ने COVID19 के लिए 4500 करोड़ डॉलर देने की प्रतिबद्धता जताई थी।

    दिल्ली में जहरीली हवा से मिलकर और घातक हो सकता है कोरोना का प्रकोप, क्या कहते हैं वैज्ञानिक?

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Finance Minister Nirmala Sitharaman, who attended the World Bank-IMF Development Committee meeting on Friday through video conferencing, shared the measures taken to deal with coronaviruses in India. According to the Finance Ministry, the meeting also shared information of $ 2,300 million provided by the Finance Minister as a first incentive by the government under direct cash transfers and food security measures.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X