• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Shocking! 3 गोली सिर में और 1 जबड़े में लगने के बाद भी महिला 28km गाड़ी चलाकर पहुंची अस्पताल

|

चंडीगढ़। पंजाब के मुक्तसर जिले से एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है जिसे सुन पहली बार में आपको भी यकीन नहीं होगा। यहां जमीन को लेकर हुए विवाद में एक महिला और उसकी मां को गोली मार दी गई। हैरानी की बात यह है कि महिला को 4 गोलियां लगी (3 सिर में और 1 जबड़े में) इसके बावजूद उसने अपनी घायल मां को उठाया और खुद 28 किलोमीटर गांड़ी चलाकर अस्पताल पहुंची। महिला की ऐसी हिम्मत को देख यमराज भी उनको छू न सके और मां-बेटी अब खतरे से बाहर हैं।

पुश्तैनी जायदाद का है विवाद

पुश्तैनी जायदाद का है विवाद

ममला दरअसर पुश्तैनी जायदाद का है, पंजाब के मुक्तसर जिले में 42 वर्षीय सुमीता कौर अपनी 65 साल की मां के साथ रहती हैं। पुश्तैनी जायदाद के चलते अक्सर उनका 19 साल का भतीजा कंवरप्रीत घर आकर लड़ाई करता था। मंगलवार शाम को भी वह घर आया और अपनी दादी के पास बैठ गया। इधर-उधर की बातचीत के बाद उसके दादी कहा कि उसे ट्यूशन जाना है उसके लिए चाय बना दें।

भतीजे ने दादी और बुआ को मारी गोली

भतीजे ने दादी और बुआ को मारी गोली

जब सुमीता कौर की मां चाय बनाने गईं तो कंवरप्रीत ने गाड़ी से पिस्टल निकाला और हमला कर दिया। सुमीता कौर ने बताया कि मां किचन में चाय बनाने गई तो कंवरप्रीत ने पहले पिस्टल से मुझपर फायरिंग की। शोर सुनते ही जब मां बाहर आईं तो उसने अनपर भी गोली चला दीं और मौके से फरार हो गया। हमले में 3 गोलियां सुमीता कौर के सिर में और एक जबड़े में लगी। वहीं उनकी मां को भी दो गोलियां लगने के बाद गंभीर रूप से घायल हो गई थीं।

28 किलीमीटर गाड़ी चलाकर पहुंची अस्पताल

28 किलीमीटर गाड़ी चलाकर पहुंची अस्पताल

प्राप्त जानकारी के मुताबिक इतनी गोली लगने के बावजूद घायल सुमीता कौर ने अपनी मां सुखबिंदर को को उठाया और गाड़ी में बिठाया। इतना ही नहीं खून से लथपथ सुमीता ने खुद कार ड्राइव कर 28 किलीमीटर दूर अस्पताल पहुंची। इलाज के दौरान डॉक्टरों ने सुमीता कौर और उनकी मां सुखबिंदर के शरीर से गोलियां निकाली और दोनों अब खतरे से बाहर हैं। सुमिता के इस हौसले को देख डॉक्टर भी हैरान हैं।

डॉक्टरों ने निकाली गोली

डॉक्टरों ने निकाली गोली

डॉक्टरों के मुताबिक सुमिता कौर के सिर में 3 गोलियां लगी थी जबकि एक गोली उनके जबड़े में लगी थी जो उनके गर्दन के पीछे फंसी हुई थी। इतनी गोली लगने का बाद भी सुमिता होश में थी और खुद गाड़ी चलाकर अस्पताल पहुंची। वहीं मामला पुलिस के संज्ञान में आते ही भतीजे कंवरप्रीत के खिलाफ हत्या की कोशिश का केस दर्ज किया गया है और पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी है।


यह भी पढ़ें: Jio का दबदबा, Reliance Jio बनी देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी,जानिए TOP 3 में कौन-कौन

English summary
Woman arrives at the hospital after driving 28km even after 3 bullets in her head
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X