• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भाजपा की पहली सूची में क्यों नदारद है केजरीवाल के खिलाफ उम्मीदवार?

|

नई दिल्ली- बीजेपी ने शुक्रवार को दिल्ली विधानसभा की 70 में से 57 सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम घोषित कर दिए, लेकिन नई दिल्ली सीट के लिए पार्टी अभी तक किसी प्रत्याशी का नाम फाइनल नहीं कर पाई है। सूत्रों के मुताबिक बीजेपी में कई नामों पर चर्चा जारी है, लेकिन केजरीवाल को टक्कर देने लायक उसे कोई मनमाफिक उम्मीदवार नहीं मिल पा रहा है। यही वजह है कि पहले दिल्ली के लिए कोई मुख्यमंत्री उम्मीदवार नहीं घोषित कर पाने के बाद बीजेपी नई दिल्ली सीट पर भी किसी का नाम नहीं तय कर पा रही है। लेकिन, इसके चलते आम आदमी पार्टी को उसपर हमले का मौका मिल गया है और वह कह रही है कि बीजेपी के पास केजरीवाल का सामना करने लायक कोई चेहरा ही नहीं बचा है।

कपिल मिश्रा को मॉडल टाउन से उतार दिया

कपिल मिश्रा को मॉडल टाउन से उतार दिया

नई दिल्ली सीट से चर्चा थी कि बीजेपी यहां मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ आम आदमी पार्टी के ही पूर्व विधायक और केजरीवाल सरकार के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा को उतार सकती है। उन्होंने जब से आम आदमी पार्टी से किनारा किया है, वे हाथ धोकर केजरीवाल एंड कंपनी के खिलाफ लगे भी हुए थे। लेकिन, 57 उम्मीदवारों की लिस्ट में उन्हें मॉडल टाउन से टिकट देकर पार्टी ने साफ कर दिया कि अभी वह आम आदमी पार्टी सुप्रीमो के खिलाफ कोई चेहरा तय नहीं कर पाई है।

कुमार विश्वास या रमेश बिधूड़ी पर विचार?

कुमार विश्वास या रमेश बिधूड़ी पर विचार?

वन इंडिया को मिली जानकारी के मुताबिक भाजपा नेतृत्व नई दिल्ली विधानसभा सीट से पूर्व आम आदमी पार्टी नेता और कवि कुमार विश्वास या दक्षिणी दिल्ली से अपने सांसद रमेश बिधूड़ी को उम्मीदवार बना सकती है। हालांकि, विश्वास अभी औपचारिक तौर पर बीजेपी में शामिल भी नहीं हुए हैं और नई दिल्ली सीट पर रमेश बिधूड़ी जैसे नेता को उतारने का फैसला करना पार्टी के लिए उतना आसान भी नहीं है। क्योंकि, बीजेपी चुनाव समिति में एक सांसद को विधानसभा चुनाव में उतारने के फैसले पर आम राय बना पाने में दिक्कत भी आ सकती है। हालांकि, एक बार मोदी और शाह चाह लेंगे तो इन अटकलबाजियों को पूरी तरह खारिज भी नहीं किया जा सकता। जहां तक विश्वास का सवाल है तो दो दिन पहले ही उनके बीजेपी में आने की खबरें उड़ीं थीं, लेकिन उसपर खुद उन्होंने भी साफगोई से कुछ कहा नहीं है और अटकलबाजियां चल ही रही हैं।

सुषमा स्वराज की बेटी के नाम पर मंथन?

सुषमा स्वराज की बेटी के नाम पर मंथन?

पूर्व विदेश मंत्री और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री रह चुकीं सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी स्वराज केजरीवाल के खिलाफ बीजेपी की मास्टरस्ट्रोक हो सकती हैं। बीजेपी इस तरह के प्रयोग करने में माहिर भी है और उसे इसमें कई बार सफलता भी हाथ लग चुकी है। खासकर नई दिल्ली सीट पर बांसुरी स्वराज एक सटीक उम्मीदवार हो सकती हैं। क्योंकि, सरकारी कर्मचारियों और नौकरशाहों से भरपूर इस चुनाव क्षेत्र में उन्हें उनकी मां की वजह से सहानुभूति वोट भी मिलने की ज्यादा उम्मीद हैं और वह राजनीति के लिए बिल्कुल नया चेहरा हैं, यह बात भाजपा के हक में जा सकता है। यही सब वजहें हैं, जिसपर बीजेपी में अभी भी मंथनों का दौर जारी है और शायद इसीलिए वह केजरीवाल के खिलाफ उम्मीदवार नहीं तय कर पाई है।

भाजपा की कश्मकश पर आम आदमी पार्टी का निशाना

इस बीच नई दिल्ली सीट को लेकर बीजेपी में जारी कश्मकश पर केजरीवाल की पार्टी भी खूब मजे ले रही है। पार्टी की वरिष्ठ नेता और कालकाजी विधानसभा सीट से उम्मीदवार आतिषी ने भी ट्वीटर के जरिए बीजेपी पर निशाना साधा है- "बीजेपी उम्मीदवारों की सूची जारी हो गई है। लेकिन, अभी भी सीएम उम्मीदवार को लेकर कोई घोषणा नहीं हुई है। क्या बीजेपी के पास को विश्वसनीय चेहरा नहीं है, जो अरविंद केजरीवाल का सामना कर सके?"

केजरीवाल के खिलाफ चेहरा नहीं बीजेपी के पास-एएपी

आम आदमी पार्टी के सोशल मीडिया और आईटी रणनीतिकार अंकित लाल ने भी बीजेपी पर इसी तरह का तंज कसा है। उन्होंने ट्वीटर पर लिखा है, "इन 57 में भाजपा का मुख्यमंत्री का चेहरा कौन है? अरविंद केजरीवाल के विरुद्ध लड़ने के लिए कोई चेहरा नहीं है भाजपा के पास?"

इसे भी पढ़ें- दिल्ली चुनाव: भाजपा ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्टइसे भी पढ़ें- दिल्ली चुनाव: भाजपा ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट

English summary
Why is the candidate against Kejriwal missing in the BJP's first list?
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X