• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

छा गईं दादी: 94 साल की भगवानी देवी वर्ल्ड चैंपियन, 24.7 सेकंड में 100 मीटर दौड़कर जीता गोल्ड VIDEO

Watch: Video of 94 yrs old Bhagwani Devi of India, Won Gold Medal in 100 Mtrs with timing of 24.74 Sec at Championship Tampere City in Finland
Google Oneindia News

नई दिल्ली। यह दादी दुनियाभर में छा गई हैं। इनका नाम है- भगवानी देसवाल उर्फ भगवानी देवी! उम्र 94 साल। मगर, जोश युवाओं जैसा। ऐसे भागती हैं कि बच्चे खुशी-खुशी साथ दौड़ने लगते हैं। अब इन्होंने वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप-2022 में बतौर एथलीट 100 मीटर की रेस 24.74 सेकंड में पूरी कर स्वर्ण पदक जीता है। इससे पहले कांस्य पदक भी जीत चुकी थीं। प्रतिस्पर्धा फिनलैंड के टाम्परे में हुई।

Recommended Video

    94 साल की दादी का कमाल, Finland में Race में जीता भारत के लिए Gold Medal | वनइंडिया हिंदी *Cricket
    कौन हैं भगवानी देसवाल उर्फ ​​भगवानी देवी?

    कौन हैं भगवानी देसवाल उर्फ ​​भगवानी देवी?

    दुनियाभर के लोग अब इस दादी के बारे में जानना चाहते हैं। इन्हें इंडिया की "नॉनजेनेरियन ग्रैंड मदर" कहा जा रहा है। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने इनकी तारीफ करते हुए एक पोस्ट लिखा है। इंस्टाग्राम पर कंगना ने भगवानी को बधाई देते हुए लिखा, "हमारे देश की 94 साल की भगवानी देवी ने वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में फिनलैंड के टाम्परे में 24.74 सेकेंड के समय के साथ 100 मीटर में स्वर्ण पदक जीता। बहुत-बहुत बधाइयां मां जी।"

    चेन्नई से यूं भरी हौसले की उड़ान

    चेन्नई से यूं भरी हौसले की उड़ान

    कंगना रनौत के अलावा देश के कई अन्य हस्तियों ने भी दादी की तस्वीरें शेयर कर बधाइयां दी हैं। एक न्यूज चैनल की इंस्टाग्राम पोस्ट के अनुसार, भगवानी देवी ने 100 मीटर दौड़ में स्वर्ण पदक हासिल किया, जबकि शॉट पुट खेल में भी कांस्य पदक हासिल किया। न्यूज एजेंसी ने अभी बताया कि, भगवानी देसवाल यूं तो गैर-एथलीट रनर थीं, जिन्होंने चेन्नई में आयोजित राष्ट्रीय मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 3 स्वर्ण पदक जीते। इसके साथ ही भगवानी देवी ने वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए क्वालीफाई कर लिया।

    दिल्ली में भी भाला फेंककर जीता स्वर्ण

    दिल्ली में भी भाला फेंककर जीता स्वर्ण

    'दादी' भगवानी देवी ने इससे पहले दिल्ली स्टेट एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 100 मीटर दौड़, शॉटपुट और भाला फेंक में तीन स्वर्ण पदक जीते थे। इनके बारे में यह उल्लेख करना भी जरूरी कि अंतरराष्ट्रीय पैरा-एथलीट और राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार विजेता विकास डागर भगवानी देसवाल के पोते हैं।

    आपको भी प्रेरित करेंगी ये दादी

    आपको भी प्रेरित करेंगी ये दादी

    अगर आप किसी ऐसे बुजुर्ग के बारे में जानना चाहते हैं जिससे आपको प्रेरणा मिले तो दादी 'भगवानी देसवाल' वो जीगा-जागता उदाहरण हैं। इनके बारे में लिखते हुए एक्ट्रेस कंगना रनौत ने सोशल मीडिया में इनकी तस्वीर पोस्ट की है। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि, भगवानी देवी ने 100 मीटर की दौड़ 24.74 सेकेंड में पूरी की है। यह भी बताया गया है कि उन्होंने शॉट पुट में कांस्य पदक जीता। वह फिनलैंड 2022 विश्व मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में हिस्सा ली हैं।

    हरियाणा: संतोष दादी की उम्र 80 पार, फिर भी भाला फेंककर जीतीं गोल्ड, बोलीं- रोज 10 बादाम, देसी घी का चूरमा खाती हूंहरियाणा: संतोष दादी की उम्र 80 पार, फिर भी भाला फेंककर जीतीं गोल्ड, बोलीं- रोज 10 बादाम, देसी घी का चूरमा खाती हूं

    ..तब 3 स्वर्ण पदक जीते

    ..तब 3 स्वर्ण पदक जीते

    • इससे पहले जब नेशनल मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप चेन्नई में आयोजित की गई थी, तो उन्होंने 3 स्वर्ण पदक जीते।

    सभी तस्वीरें: एएनआई और पीटीआई।

    Comments
    English summary
    Watch: Video of 94 yrs old Bhagwani Devi of India, Won Gold Medal in 100 Mtrs with timing of 24.74 Sec at Championship Tampere City in Finland
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X