• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

उन्नाव रेप पीड़िता को लखनऊ से एयरलिफ्ट करके एम्स लाया गया

|

नई दिल्ली। 19 वर्षीय उन्नाव गैंग रेप पीड़िता की हालत काफी गंभीर बनी हुई है। उसकी गंभीर हालत को देखते हुए बीती रात पीड़िता को एयरलिफ्ट करके लखनऊ से दिल्ली के एम्स अस्पताल भेजा गया है, ताकि उसे यहां बेहतर इलाज मिल सके। अस्पताल के एक डॉक्टर ने बताया कि हमे पीड़िता के आने की सूचना दी गई है, उसके लिए अस्पताल में पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं क्योंकि पीड़िता की हालत काफी गंभीर है। बता दें कि इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि पीड़िता को तत्काल प्रभाव से किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज, लखनऊ से एयरलिफ्ट किया जाए।

aiims

28 जुलाई को हुआ था हादसा

दरअसल पीड़िता के वकील आरके रेड्डी ने सुप्रीम कोर्ट से पीड़िता को केजीएमसी से हटाने की मांग की थी। रेड्डी ने कोर्ट को बताया कि पीड़िता की मां पीड़िता को एम्स भेजना चाहती हैं, ताकि उसे यहां बेहतर इलाज मिल सके, क्योंकि उसकी हालत काफी गंभीर है। वहीं कोर्ट ने कहा कि कहा कि निर्देश के अनुसार घायल वकील का परिवार भी इसी तरह की मांग कर सकता है। गौरतलब है कि पीड़िता ने भाजपा सांसद कुलदीप सिंह सेंगर पर 2017 में गैंगरेप का आरोप लगाया था। पीड़िता का रायबरेली में 28 जुलाई को एक्सिडेंट हो गया था, जिसमे वह बुरी तरह से घायल हो गई थी। इस हादसे में पीड़िता की चाची और मौसी की मृत्यु हो गई थी, जबकि वकील और पीड़िता बुरी तरह से घायल हो गए थे।

सीबीआई कर रही जांच

कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ रेप मामले की जांच सीबीआई कर रही है, फिलहाल सेंगर सीतापुर की जले में बंद थे, जिसके बाद सेंगर और सह आरोपी शशि सिंह को सुनवाई के लिए दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ले जाया गया है। जहां उन्हें सुनवाई के बात तिहाड़ जेल में रखा जाएगा। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई दिल्ली में किए जाने का आदेश देते हुए 45 दिन के भीतर पूरा करने को कहा था। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने आदेश दिया था कि पीड़िता को 25 लाख रुपए की अंतरिम मदद दी जाए। सड़क हादसे का केस लखनऊ में ही रहेगा, साथ ही सीबीआई को निर्देश दिया गया है कि वह अपनी जांच को सात दिन के भीतर पूरा करे।

हालत गंभीर

इससे पहले सोमवार को शाम तकरीबन 6.30 बजे एंबुलेंस केजीएमसी पहुंची थी, जहां से कंजेशन फ्री ग्रीन कोरिडोर के जरिए एंबुलेंस पीड़िता को लेकर लखनऊ एयरपोर्ट पहुंची। इस दौरान राम मनोहर लोहिया के डॉक्टर पीड़िता के साथ नई दिल्ली तक साथ थे, साथ ही एयर एंबुलेंस में मेडिकल टीम भी मौजूद थी। दिल्ली पहुंचने पर दिल्ली पुलिस ने भी एंबुलेंस को ग्रीन कोरिडोर मुहैया कराया और पीड़िता को दिल्ली एयरपोर्ट से एम्स अस्पताल तक पहुंचाया गया। बता दें कि सोमवार की सुबह केजीएमसी के डॉक्टरों ने जो मेडिकल रिपोर्ट जारी की थी उसमे कहा था कि पीड़िता की हालत काफी गंभीर है। पीड़िता ने अपनी आंखें खोली थी और मेडिकल स्टॉफ ने उसे जो निर्देश दिया, उसका उसने पालन किया था। वह निर्देश को समझने में समर्थ है। वहीं पीड़िता के वकील का इसी नाजुक हालत में केजीएमसी के ट्रॉमा सेंटर के आईसीयू में इलाज चल रहा है।

इसे भी पढ़ें- दिल्ली के जाकिर नगर में स्थित बिल्डिंग में लगी आग, 5 लोगों की मौत, 11 घायल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Unnao rape survivor airlifted from Lucknow to Delhi AIIMS.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X