• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सोशल डिस्टेंसिंग ही एकमात्र उपाय, क्योंकि एक व्यक्ति 406 लोगों में फैला सकता है कोरोना संक्रमण!

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक महज एक अकेला कोरोना वायरस रोगी 30 दिनों के भीतर संभावित रूप से करीब 406 लोगों को संक्रमित कर सकता है, लेकिन अगर सोशल डेस्टेंसिंग जैसे वांछित उपायों का पालन किया जाए तो संक्रमित लोगों की संभावना कम हो सकती है।

corona

मंगलवार को दिए एक बयान में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि महज सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के जरिए एक ही अवधि में संक्रमण को प्रति मरीज सिर्फ 406 से 2.5 लोगों तक फैलने से रोका जा सकता है।

Salute to Doctors: मरीजों की जान बचाने के लिए लिए जान हथेली पर लेकर खड़े हैं डॉक्टर्स!Salute to Doctors: मरीजों की जान बचाने के लिए लिए जान हथेली पर लेकर खड़े हैं डॉक्टर्स!

दरअसल, वैश्विक महमारी कोरोना वायरस पर हाल ही में एक अध्ययन का हवाला देते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने यह जानकारी साझा की है। उन्होंने कहा कि जानलेवा नोवल कोरोना वायरस के प्रसार को कम करने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग सबसे महत्वपूर्ण उपकरण बनकर उभरा है।

corona

गौरतलब है मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार कोरोना वायरस महामारी अब तक भारत में कुल 117 लोगों की जान ले चुकी है, जबकि COVID19 पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 4,421 हो गई है, जिसमें पिछले 24 घंटों में सामने आए 354 मामले भी शामिल हैं। मंत्रायल के मुताबिक अब तक कुल 326 व्यक्तियों को रिकवरी के बाद छुट्टी दे दी गई है।

corona

गुजरात में 14 माह का नवजात मिला कोरोना पॉजिटिव, लंबे समय से घर पर ही था परिवार!गुजरात में 14 माह का नवजात मिला कोरोना पॉजिटिव, लंबे समय से घर पर ही था परिवार!

संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि एक संक्रामक रोग कितना संक्रामक है उसे R0 या R naught यूनिट के जरिए मापा जाता है। नोवल कोरोनो वायरस के लिए R0 कहीं न कहीं 1 से 4 के बीच होता है। माना जाता है कि Covid-19 के मामले में R0 2.5 है।

corona

उल्लेखनीय है इसी धारणा के आधार पर गणना करते हुए शोधकर्ताओं ने पाया कि बिना किसी आइसोलेशन या सेल्फ आइसोलेशन का पालन किए एक Covid-19 रोगी 30 दिनों के भीतर 406 लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित कर सकता है, लेकिन अगर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाता है तो यह संख्या मात्र 2.5 तक कम हो जाती है।

यह भी पढ़ें-9 बजे 9 मिनटः अति उत्साही लोगों की आतिशबाजी ने फिर बिगाड़ दी दिल्ली की हवा की गुणवत्ता!

English summary
In the Union Ministry of Health, Joint Secretary Luv Agarwal said that by simply social distancing, the infection can be prevented from spreading from just 406 to 2.5 people per patient in a single period. Citing a study, the Joint Secretary in the Ministry of Health stated that social distancing has emerged as the most important tool to reduce the spread of the novel corona virus.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X