पीएम मोदी का एक हफ्ता, तीन देश और तीन बड़े सम्‍मेलन

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए आज से एक और व्‍यस्‍त हफ्ते की शुरुआत हो रही है जिसमें विएतनाम से लेकर चीन जैसे देशों का दौरा शामिल होगा। दो देशों में उन्‍हें तीन सम्‍मेलनों में शामिल होना है जिसमें सबसे अहम है जी-20 सम्‍मेलन। पीएम मोदी आज विएतनाम के लिए रवाना होंगे। फिर यहां से सीधे वह चीन के झेजियांग प्रांत स्थित हैंगझोऊ में होने वाले 11वें जी-20 शिखर सम्‍मेलन के लिए रवाना हो जाएंगे।

PM-Modi-start-his-diplomatic-tour

पढ़ें-G-20से जुड़ी कुछ रोचक तथ्‍य

15 वर्षो में विएतनाम जाने वाले पहले पीएम

पीएम मोदी 15 वर्षों में पहले ऐसे भारतीय प्रधानमंत्री हैं जो विएतनाम के दौरे पर रवाना होंगे। उनसे पहले वर्ष 2001 में उस समय के प्रधानमंत्री अटल बिहार वाजपेई विएतनाम के दौरे पर गए थे। शनिवार को पीएम मोदी विएतनाम के नेताओं के साथ द्विपक्षीय वार्ता में शामिल होंगे। 

विएतनाम के नेताओं से होगी मुलाकात

विएतनाम में पीएम मोदी विएतनाम की कम्‍यूनिस्‍ट पार्टी के महासचिव नग्‍यून फू ट्रोंग, राष्‍ट्रपति ट्रान डाइ क्‍यूांग, प्रधानमंत्री नग्‍यून जुआन फूक और चेयरमैन नग्‍यून थि किम नगान से मुलाकात करेंगे।

भारत का मानना है कि विएतनाम भारत की एक्‍ट इस्‍ट पॉलिसी का केंद्रीय स्‍तंभ है। विएतनाम के साथ रक्षा और सुरक्षा के साथ ही व्‍यापार और मैरीटाइम सहयोग के अलावा ऊर्जा और दूसरे कई मंचों पर एक अहम भागीदार है।

विएतनाम के साथ भारत का द्विपक्षीय व्‍यापार 7.8 बिलियन का है और अतिरिक्त व्‍यापार करीब 2.8 बिलियन डॉलर का है।

पढ़ें-एनएसजी में भारत की एंट्री के लिए जी-20 में चीन से बात

चीन से पहुंचेंगे वियनताने

पीएम मोदी चीन से पांच सितंबर को लौट आएंगे लेकिन फिर एक और दौरा उनका इंतजार कर रहा होगा। चीन से लौटने के बाद पीएम मोदी वियनताने की राजधानी लाओस में होने वाले 14वें आसियान सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेंगे। यह सम्‍मेलन सात से आठ सितंबर तक चलेगा जिसमें ईस्‍ट-एशिया सम्‍मेलन भी शामिल है। 

तीसरा आसियान सम्‍मेलन

पीएम मोदी के लिए यह तीसरा मौका है जब वह आसियान सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेंगे। भारत और आसियान के बीच करीब 65.04 बिलियन डॉलर का कारोबार वर्ष 2015-2016 में दर्ज हुआ है। आसियान भारत के 10.12 प्रतिशत व्‍यापार का भागीदार है।

आसियान के बाद पीएम मोदी 11वीं ईस्‍ट एशिया समिट में शामिल होंगे। इस बार इस समिट में भारत, चीन, जापान, साउथ कोरिया, ऑस्‍ट्रेलिया, न्‍यूजीलैंड, अमेरिका और रूस जैसे देश शिरकत कर रहे हैं।

जी-20 में ओबामा और जिनपिंग से मुलाकात!

विएतनाम से पीएम मोदी पहुंचेंगे चीन जहां पर चार से पांच सितंबर तक वह जी-20 सम्‍मेलन में शिरकत करेंगे।

जब पीएम मोदी जी-20 समिट में हिस्‍सा लेंगे तो वह अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा से तो मुलाकात करेंगे ही साथ ही साथ चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग से भी मुलाकात होगी।

जिनपिंग के साथ पीएम मोदी की द्विपक्षीय वार्ता होगी जिसमें माना जा रहा है कि वह एनएसजी में भारत की एंट्री को लेकर चर्चा कर सकते हैं।

पीएम मोदी के साथ नीति आयोग के उपाध्‍यक्ष अरविंद पनगढ़‍िया, विदेश सचिव एस जयशंकर और आर्थिक मामलों के विभाग में सचिव शशिंकात दास मौजूद होंगे।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Prime Minister Narendra Modi to start his hectic diplomatic tour. PM Modi will leave for Vietnam today and it will end with G-20 summit in China.
Please Wait while comments are loading...