• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अयोध्या: राम मंदिर ट्रस्ट के लोगों से प्रधानमंत्री मोदी ने की ये खास अपील

|

नई दिल्ली- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के लोगों से एक विशेष अपील की है। उन्होंने ट्रस्टियों से कहा है कि वे अपनी बात सार्वजनिक तौर पर बहुत ही सावधानी के साथ रखने की कोशिश करें। ये जानकारी ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने शुक्रवार को मीडिया को दी है। गौरतलब है कि गुरुवार को ट्रस्ट का एक प्रतिनिमंडल इसके अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास की अगुवाई में पीएम मोदी से उनके आवास पर मिला था। यह मुलाकात ट्रस्ट की पहली बैठक के अगले दिन ही हुई, जिसे शिष्टाचार मुलाकात बताया गया है।

अयोध्या मसले पर सावधानी से बोलने की अपील

अयोध्या मसले पर सावधानी से बोलने की अपील

विश्व हिंदू परिषद के उपाध्यक्ष चंपत राय ने शुक्रवार को बताया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन लोगों से कहा है कि अयोध्या से संबंधित मामलों पर बोलने में जरा सावधानी बरतें। राय को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का महासचिव भी बनाया गया है। उनके मुताबिक, "प्रधानमंत्री ने हमसे कहा कि वे देश में शांति चाहते हैं। उन्होंने हमसे कहा है कि राम जन्मभूमि के मुद्दे पर बोलने के दौरान जरा सावधानी बरतें। हमनें उन्हें उपहार में वस्त्र दिए, उन्होंने भी हमें भी वही दिया है।" बता दें कि महंत नृत्य गोपाल दास महाराज की अगुवाई वाले श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अधिकारियों ने गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की थी और उन्होंने अयोध्या आने का निमंत्रण दिया था।

'अयोध्या आने पर विचार करने का भरोसा दिया'

'अयोध्या आने पर विचार करने का भरोसा दिया'

दरअसल, अब मंदिर निर्माण से जुड़े सारे लोग अयोध्या में जल्द से जल्द मंदिर बनाने का काम शुरू करवाना चाहते हैं। पीएम मोदी से मुलाकात के बाद ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास महाराज ने कहा, "हमने निवेदन किया है कि राम मंदिर के इंतजार में बहुत देर हो चुकी है और इसलिए निर्माण का कार्य जल्द शुरू होना चाहिए।" उन्होंने ये भी कहा कि "हमने प्रधानमंत्री से मिलकर उन्हें अयोध्या आने का निमंत्रण दिया। प्रधानमंत्री ने हमें भरोसा दिया है कि वह इस प्रस्ताव पर विचार करेंगे। उन्होंने ये भी कहा है कि जल्द ही भव्य मंदिर का निर्माण होगा।"

पीएम मोदी से मिला था प्रतिनिधिमंडल

पीएम मोदी से मिला था प्रतिनिधिमंडल

प्रधानमंत्री से मुलाकात करने वाले प्रतिनिधिमंडल में नृत्य गोपाल दास और चंपत राय के अलावा वरिष्ठ वकील के परासरण और स्वामी गोविंद गिरीजी महाराज भी शामिल थे। बता दें कि पिछले साल 9 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के आधार पर ही इसी महीने केंद्र सरकार ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण और संचालन के लिए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की घोषणा की थी। बाद में ट्रस्ट के सदस्यों ने अयोध्या आंदोलन से जुड़े रहे महंत नृत्य गोपाल दास को इसका अध्यक्ष और वीएचपी के चंपत राय को महासचिव नियुक्त किया था।

मार्च में अयोध्या में होगी ट्रस्ट की बैठक

मार्च में अयोध्या में होगी ट्रस्ट की बैठक

इस ट्रस्ट की पहली बैठक पिछले 19 फरवरी को दिल्ली के ट्रस्ट के रजिस्टर्ड दफ्तर में हुई थी। जानकारी के मुताबिक श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की दूसरी बैठक अयोध्या में मार्च के पहले सप्ताह में होगी। वीएचपी के सूत्रों ने बताया कि 3 या 4 मार्च को होने वाली बैठक में मंदिर निर्माण शुरू करने की तारीख पर फैसला होगा। कहा जा रहा है कि रामनवमी पर अयोध्या में 15 लाख से ज्यादा की भीड़ जुटती है। इस कारण सुरक्षा व्यवस्था की समस्या के चलते इस तारीख पर सहमति नहीं बन पा रही है।

इसे भी पढ़ें- अब मोदी सरकार के सहयोगी ने अयोध्या में भव्य बौद्ध मंदिर के लिए मांगी 20 एकड़ जमीन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Prime Minister Modi made this special appeal to the people of Ram Mandir Trust about Ayodhya
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X