'Poor Quality' के स्वास्थ्य व्यवस्था का वादा कर ट्रोल हुआ पीएमओ

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। पीएमओ की ओर से गुरुवार को स्वास्थ्य सेवाओं के संबंध में विवादित ट्वीट कर दिया गया। अंग्रेजी में किए गए ट्वीट में व्याकरण गलत होने के कारण पीएम द्वारा दिए गए बयान के अर्थ का अनर्थ हो गया। जिस पर लोगों ने पीएम मोदी और पीएमओ को जमकर ट्रोल किया। कुछ यूजर्स ने तो यहां तक कहा कि ये पकौड़ा सरकार है।

ट्रोल हुआ पीएमओ

ट्रोल हुआ पीएमओ

दरअसल पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण के दौरान कहा कि हम सब को मिल कर गरीब को सस्ती स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए प्रयास करना चाहिए लेकिन पीएमओ ने लिख दिया Let us work together in providing the poor quality and affordable healthcare इस वाक्य में poor के बाद with होना चाहिए था। ऐसा ना होने से इस वाक्य का मतलब ही बदल गया।

 'आखिरकार आपने सच्चाई बोलने की हिम्मत जुटा ली'

'आखिरकार आपने सच्चाई बोलने की हिम्मत जुटा ली'

प्रधानमंत्री को फॉलो करने वाले लोगों ने तुरंत इसकी आलोचना करनी शुरू कर दी। अर्जुन ने ट्वीट किया, 'आखिरकार आपने सच्चाई बोलने की हिम्मत जुटा ली। इस बात को मानने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद की आपके शासनकाल में स्वास्थ्य की गुणवत्ता भी खराब है।' नरेंद्र ने लिखा, 'आइए हमलोग मिलकर यह शपथ लें कि भविष्य में भाजपा को वोट नहीं डालेंगे क्योंकि पीएमओ ने स्पष्ट कर दिया है कि वह (पीएम मोदी) खराब स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करा रहे हैं।'

 'यह 'पकौड़ा गवर्नमेंट' है'

'यह 'पकौड़ा गवर्नमेंट' है'

पीएमओ के इस ट्वीट पर लोगों ने जमकर मजे लिए। लोगों ने कमेंट किया कि यह सरकार की पकौड़ा पॉलिटिक्स है वहीं किसी ने निशाना साधते हुए कमेंट किया सरकार ने गलती से ही सही पर अपनी सच्चाई दिखा दी। लोगों ने कहा कि यह पकौड़े का प्रभाव है, यह 'पकौड़ा गवर्नमेंट' है।

'चायवाला' कहकर 44 सीटों पर अटके थे, 'पकौड़ा' विवाद 5 पर ही फिक्स कर देगा, बीजेपी सांसद का कांग्रेस पर निशाना

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
PMO Tweeted They Will Provide Poor Quality Healthcare People Trolled Modi

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.