• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ओडिशा: क्राइम ब्रान्च करेगी ओटीवी ग्रुप के जमीन कब्जे के मामले की जांच, प्रशासन ने भी शुरू की कार्रवाई

|

नई दिल्ली। ओडिशा इन्फ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड पर जमीन कब्जे और अवैध निर्माण के आरोपों की जांच क्राइम ब्रान्च करेगी। बुधवार को राज्य सरकार ने मामले की जांच क्राइम ब्रान्च को सौंपी है। इसके एक दिन बाद आज खोरधा जिला प्रशासन ने भी कार्रवाई शुरू की है। सरमा में जिला प्रशासन ने ग्रुप के कई निर्माण गिराए हैं। तहसीलदार और पुलिस की मौजूदगी में गुरुवार को ओटीवी के कथित अतिक्रमण के हटाया गया है।

s

इस मामले में आरोप है कि बेगोनिया तहसील में अनुसूचित जाति के लोगों की जमीन को बेनामी लेनदेन के माध्यम से रवीन्द्र कुमार सेठी ने ओडिशा इन्फ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड को बेच दिया। गांव के लोगों का कहना है कि इसके बाद कंपनी ने दीवारें कर जमीन को कब्जे में ले लिया। इससे लोगों का तालाब और खेतो में जाने का रास्ता भी बंद हो गया। मामले को लेकर गांव के लोगों ने खोरधा जिला कलेक्ट्रेट में काफी समय तक धरना भी दिया था।

ग्रामीणों का कहना है कि कंपनी ने उन पर औनेपौने दाम में अपनी जमीन बेचने के लिए लगातार दबाव भी डाला। लगातार धरने प्रदर्शन के बाद एक अक्टूबर को मामले की जांच प्रशासन ने शुरू की। बाद में मामला बढ़ने पर क्राइम ब्रान्च को मामला सौंपा गया है। 14 अक्टूबर को क्राइम ब्रान्च को केस दिया गया है। अब क्राइम ब्रान्च मामले की जांच करेगी।

ये भी पढ़ें- दिल्ली में प्रदूषण को लेकर केंद्र और आप में बढ़ी तकरार, गोपाल राय ने कहा- पराली जलाने वाले प्रदेशों की तरफदारी कर रहे हैं केंद्रीय मंत्री

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
odisha Crime Branch To Probe Land Grabbing Case Against OTV Group Subsidiary Admin Kicks off Eviction Drive
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X