• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

राज्यों में एआरटी दवाओं की कोई कमी नहीं है फिर भी नहीं मिल रही HIV रोगियों को दवा!

|
Google Oneindia News

नई दिल्‍ली, 26 जुलाई: एचआईवी मरीजों के ग्रुप में संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए महत्वपूर्ण एंटीरेट्रोवाइरल दवाओं की कमी को लेकर मंगलवार को दिल्‍ली में प्रदर्शन किया। एचआईवी रोगियों के विरोध के बाद चर्चा करने केा अधिकारी तैयार हुए।

hiv

दिल्ली में राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन के कार्यालय में इस समूह ने विरोध प्रदर्शन किया। एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार नाको के हस्‍तक्षेप के बाद और एचआईवी (पीएलएचआईवी) के साथ रहने वाले व्यक्तियों के राष्ट्रीय नेटवर्क के सक्रिय सहयोग से, प्रदर्शनकारियों के चार प्रतिनिधियों ने आज दोपहर नाको के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बात की।

चर्चा के दौरान प्रदर्शनकारियों को दवा की उपलब्धता को लेकर स्थिति से बताई और उन्हें उन कुछ केंद्रों पर दवाओं की उपलब्धता के लिए राज्य एड्स नियंत्रण समितियों और नाको के साथ संयुक्त रूप से काम करने के लिए कहा गया था, जो अस्थायी रूप से आपूर्ति पर कम चल रहे थे

वहीं केंन्‍द्र सरकार के सूत्रों ने दावा किया कि देश में लगभग 95% एचआईवी रोगियों के लिए राष्ट्रीय स्तर पर पर्याप्त स्टॉक है, जो पहली और दूसरी लाइन के एआरवी (एंटीरेट्रोवायरल) रेजिमेंस जैसे टैबलेट टीएलडी (टेनोफोविर + लैमिवुडिन + डोलटेग्रेविर) और अन्य एआरवी रेजिमेंस पर हैं। सूत्र ने कहा 85% से अधिक पीएलएचआईवी के लिए उपचार का मुख्य आधार ये दवाइयां है और जिसका तीन महीने से अधिक समय तक चलने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर पर्याप्त स्टॉक है। लगभग 50,000 पीएलएचआईवी के लिए टैबलेट डोलटेग्रेविर (डीटीजी) -50 मिलीग्राम की आवश्यकता होती है, जो या तो वैकल्पिक-पहली, दूसरी या तीसरी-लाइन के नियमों पर या टीबी वाले मरीज है।

वहीं अधिकारी ने स्पष्ट किया कि राज्य स्तर पर किसी भी एआरवी दवाओं के लिए कोई रिपोर्ट स्टॉक नहीं है और कई दवाओं की अगली लॉट की खरीद के लिए नए सप्‍लाई आदेश पहले ही दिए जा चुके हैं। एंटीरेट्रोवायरल थेरेपी सेंटर में कभी-कभी यह समस्या हो सकती है, लेकिन दवाएं तुरंत आस-पास के केंद्रों से ट्रांसफर कर दी जाती है।

Comments
English summary
no shortage of ART drugs in the states, yet HIV patients are not getting the necessary medicines! central government source
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X