• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नीतीश कुमार ने 'जय बिहार, जय भारत' का दिया नारा और दे दिया मुख्‍यमंत्री पद से इस्‍तीफा

|

Nitish kumar
पटना। बिहार के मुख्‍यमंत्री और जेडीयू पार्टी के सुप्रीमो नीतीश कुमार ने अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया है। नीतीश ने शनिवार को राज्‍यपाल से मिलकर उन्‍हें अपना इस्‍तीफा सौंप दिया है। लोक सभा चुनाव 2014 के दौरान नीतीश की पार्टी को सिर्फ 2 ही सीटें मिली हैंं।

आम चुनाव के दौरान पार्टी के वरिष्‍ठ सूत्रों का कहना था कि नीतीश के करीब 50 विधायक उनसे काफी नाराज हैं और और वो राम विलास पासवान के साथ जाना चाहते हैं। नीतीश कुमार ने कहा है कि हम जनादेश को स्‍वीकार करते है और इसलिए अपने पद से इस्‍तीफा दे रहे हैं। बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री नीतीश ने इस्‍तीफा देते हुए कहा है कि जय बिहार, जय भारत।

नितीश कुमार की उपलब्धियां:

- नितीश कुमार ने मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए बिहार में सूचना के अधिकार के इलेक्ट्रॉनिक संस्करण की शुरुआत की।

- उन्होंने मनरेगा के तहत ई-शक्ति कार्यक्रम की शुरुआत की, जिसके तहत फोन पर ही रोजगार से जुड़े समाचार उपलब्ध कराए जाते हैं।

- इनके कार्यकाल के दौरान बिहार में फैस्ट ट्रैक न्यायालयों के तहत पहले की अपेक्षा कहीं ज्यादा आपराधिक मामलों का निपटारा किया गया।

- नितीश कुमार ने अपने कार्यकाल के दौरान प्रत्येक स्कूल जाने वाली लड़की को साइकिल उपलब्ध कराने की योजना भी शुरू की, जिसके परिणामस्वरूप ज्यादा से ज्यादा लड़कियों ने स्कूल जाना शुरू किया और पहले की अपेक्षा अधिक परिवारों ने भी अपनी बच्चियों को स्कूल से निकालना कम किया।

- मुफ्त दवाइयां, चिकित्सीय सेवाएं और किसानों को ऋण देने जैसी सेवाएं भी शुरू की गईं।

- पूर्व राष्ट्रपति अबुल कलाम और नितीश कुमार की पहल के कारण नालंदा अंतरराष्ट्रीय यूनिवर्सिटी प्रोजेक्ट की शुरुआत हुई।

- रेल मंत्री रहते हुए उन्होंने रेल सेवा को सुचारू रूप से चलाने और टिकटों की बुकिंग को आसान बनाने के लिए इंटरनेट टिकट बुकिंग और तत्काल सेवा प्रारंभ की। इसके अलावा नितीश कुमार ने टिकट बुक कराने के लिए भी प्रचुर मात्रा में रेलवे टिकट काउंटर खुलवाए।

- ऐसा माना जाता है कि नितीश कुमार के प्रयासों के द्वारा ही दिवालिया होती भारतीय रेल सेवा फिर से तीव्र गति से विकास करने लगी।

अपने घमंड में चूर नीतीश को मानना पड़ा जनादेश

अपने घमंड में चूर नीतीश को मानना पड़ा जनादेश

नीतीश कुमार ने बिहार में अपने मुख्‍यमंत्री पद से इस्‍तीफा दे दिया है। इसी के साथ उन्‍होंने कहा कि जय बिहार, जय भारत।

अपने शससनकाल से संतुष्‍ट नहीं थे नीतीश

अपने शससनकाल से संतुष्‍ट नहीं थे नीतीश

नीतीश कुमार भले ही मुख्‍यमंत्री थे लेकिन उन्‍हें अपने विधायकों और जनता से कभी संतुष्टि नहीं मिली।

नीतीश नींद में लेकिन सपा टूटा

नीतीश नींद में लेकिन सपा टूटा

नीतीश कुमार को आम चुनाव 2014 में सबसे बढ़ा झटका लगा और उन्‍होंने नींद में रहते हुए ही इस्‍तीफा दे दिया है।

नीतीश और मुलायम की खुली पोल

नीतीश और मुलायम की खुली पोल

बिहार में नीतीया कुमार को आम चुनाव 2014 में सिर्फ 2 सीट और यूपी में सत्‍ताधारी सपा के मुलायम को केवल 5 सीट प्राप्‍त हुई हैं। अब दोनों लोग साथ रहने की तैयारी कर रहे हैं।

अच्‍छा होता नीतीश होते भाजपा में

अच्‍छा होता नीतीश होते भाजपा में

बिहार के मुख्‍यमंत्री वैसे तो विकास का दावा करते हैं लेकिन स्‍वयं जनता को बोझ ढोने में उनके पसीने छूट जाते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In bihar JDU leader and Chief Minister Nitish kumar resigned from his CM post.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X