• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

'यहां नमाजियों को मारा नहीं जाता, स्कूल जाने पर लड़कियों के सिर नहीं काटे जाते', नकवी का तालिबान को जवाब

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 04 सितंबर: केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने तालिबान को जवाब देते हुए कहा है कि भारत के मुसलमानों को बख्श दें क्योंकि यहां चरमपंथी अत्याचारों की कोई घटना नहीं होती है। भारत धर्म से नहीं संविधान से चलता है। हाल ही में तालिबान के एक प्रवक्ता ने दावा किया कि समूह के पास कश्मीर के मुसलमानों के लिए अपनी आवाज उठाने का अधिकार है। जिसका जवाब देते हुए अल्पसंख्यक मामलों के केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, ''भारत में केवल संविधान का पालन किया जाता है, और यहां की मस्जिदों में नमाजियों को गोलियों और बमों से नहीं मारा जाता है। ना ही स्कूल जाने लड़कियों को रोका जाता है। ना ही स्कूल जाने पर लड़कियों के सिर ,हाथ-पैर काटे जाते हैं।''

    Mukhtar Abbas Naqvi ने Taliban को दिया करारा जवाब, कहा- Indian Muslims को बख्श दो | वनइंडिया हिंदी
    हाथ जोड़कर कहता हूं भारत के मुसलमानों को बख्श दें: नकवी

    हाथ जोड़कर कहता हूं भारत के मुसलमानों को बख्श दें: नकवी

    केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, भारत और अफगानिस्तान में शासन करने के तरीके में काफी अंतर है। इसलिए भारत के मुसलमानों के बारे में तालिबान ना बोले। न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, "मैं उनसे (तालिबान से) हाथ जोड़कर अपील करता हूं कि भारत के मुसलमानों को बख्श दें।''

    'भारत में स्कूल जाने वाली लड़कियों के सिर-पैर नहीं काटे जाते'

    'भारत में स्कूल जाने वाली लड़कियों के सिर-पैर नहीं काटे जाते'

    केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, ''यहां (भारत में) मस्जिदों में नमाज पढ़ने वालों पर गोलियों और बमों से हमला नहीं किया जाता है। यहां लड़कियों को स्कूल जाने से नहीं रोका जाता, उनके सिर-पैर नहीं काटे जाते।'' मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, "इस देश की सरकारों का ग्रंथ संविधान है और देश उसी पर चलता है।"

    कश्मीर को लेकर तालिबान ने क्या कहा?

    कश्मीर को लेकर तालिबान ने क्या कहा?

    इसी हफ्ते बीबीसी उर्दू के साथ एक इंटरव्यू में तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने कहा था, "मुसलमानों के रूप में, हमें कश्मीर, भारत या किसी अन्य देश में मुसलमानों के लिए अपनी आवाज उठाने का भी अधिकार है।" वहीं एक अन्य तालिबान नेता अनस हक्कानी ने न्यूज18 नेटवर्क को दिए इंटरव्यू में कहा था, "कश्मीर हमारे अधिकार क्षेत्र का हिस्सा नहीं है और हस्तक्षेप हमारी नीति के खिलाफ है।"

    ये भी पढ़ें-जावेद अख्तर बोले- 'तालिबान के विचार किसी भी भारतीय को सही नहीं लग सकते', RSS पर भी कसा तंजये भी पढ़ें-जावेद अख्तर बोले- 'तालिबान के विचार किसी भी भारतीय को सही नहीं लग सकते', RSS पर भी कसा तंज

    तालिबान नेता के बयान से भारत में चिंता!

    तालिबान नेता के बयान से भारत में चिंता!

    तालिबान के एक अन्य प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने भी कश्मीर में प्रत्यक्ष हस्तक्षेप का कोई जिक्र नहीं किया है। तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने पाकिस्तानी न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा है कि भारत और पाकिस्तान को सभी मुद्दों को सुलझाने के लिए एक साथ बैठना चाहिए। हालांकि तालिबान नेता शाहीन की टिप्पणियों ने भारत में कुछ वर्गों के भीतर चिंता जताई कि समूह अब जम्मू और कश्मीर पर अपनी नजरें जमा सकता है।

    English summary
    Mukhtar Abbas Naqvi to Taliban spare Muslims of India there is no bullets and bombs
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X