• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

आजम खान को बेल देने वाली जस्टिस नागेश्वर की CJI रमना ने की तारीफ, कही ये बड़ी बात

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 20 मई: भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने शुक्रवार को सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति नागेश्वर राव की सराहना की और न्यायाधिकरण सुधारों पर मद्रास बार एसोसिएशन के फैसले सहित उनके विभिन्न ऐतिहासिक फैसलों का हवाला दिया। सीजेआई रमना की टिप्पणी सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन द्वारा आयोजित जस्टिस नागेश्वर राव के विदाई समारोह को संबोधित करते हुए आई। उन्होंने एक व्यक्ति की स्वतंत्रता की रक्षा के लिए एक अभिनव तरीके से आजम खान को जमानत देने के हालिया आदेश का भी उल्लेख किया।

Justice Nageswara Rao retired from the Supreme Court CJI Ramana lauds him

सीजेआई रमना ने न्यायमूर्ति राव द्वारा दिए गए विभिन्न ऐतिहासिक निर्णयों को याद किया और कहा कि उन्होंने कानून के विस्तार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। सीजेआई ने कहा कि मद्रास बार एसोसिएशन एक महत्वपूर्ण निर्णय था। न्यायमूर्ति नागेश्वर राव ने कानून की व्याख्या करने और कई उल्लेखनीय विचारों में संविधान की व्याख्या करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

सीजेआई ने आगे कहा कि राव ने बेंच पर अपने समय के दौरान कई ऐतिहासिक फैसले लिखे हैं, जिसकी एक लंबी और विशिष्ट सूची है, इसलिए, मैं केवल कुछ का ही उल्लेख करूंगा। मद्रास बार एसोसिएशन बनाम यूनियन ऑफ इंडिया में अपने फैसले के माध्यम से भारत में ट्रिब्यूनल संरचना को सुनिश्चित करने के पीछे वह ताकत थी। न्यायमूर्ति रमना ने कहा कि न्यायमूर्ति राव ने हाल ही में जैकब पुलियेल मामले में फैसला सुनाया, जिसमें उन्होंने कहा कहा था कि किसी भी व्यक्ति को टीकाकरण के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता है।

उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या के मामले के दोषी ए जी पेरारीवलन को रिहा करने का आदेश देने वाला फैसला भी लिखा। न्यायमूर्ति राव कृष्ण कुमार सिंह बनाम बिहार सरकार में सात न्यायाधीशों की पीठ का हिस्सा थे, जिसने कहा कि अध्यादेशों को फिर से लागू करना असंवैधानिक है। जस्टिस राव 7 जून, 2022 को रिटायर हो रहे हैं। हालांकि, शुक्रवार से कोर्ट गर्मी की छुट्टियों के लिए बंद हो रहा है, इसलिए यह उनका आखिरी कार्य दिवस था।

ग्रेटर नोएडा: गौर सिटी में 22 मंजिल से कूदकर कपल ने की सुसाइडग्रेटर नोएडा: गौर सिटी में 22 मंजिल से कूदकर कपल ने की सुसाइड

जस्टिस राव सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में 7वें ऐसे जज हैं, जिन्हें सीधे बार से प्रमोट किया गया। जस्टिस राव ने अपने 6 साल के कार्यकाल को एक अच्छा समय करार दिया। इस दौरान उन्होंने कहा- मुझे लगता है कि वकील होना जज होने से बेहतर है। मौका मिलने पर मैं हमेशा के लिए वकील बनना पसंद करूंगा। राव ने कहा- जज साधु नहीं होते, कभी-कभी उन पर भी काम का दबाव हो जाता है। बता दें कि जस्टिस राव 1989 में आई संजय दत्त की फिल्म 'कानून अपना अपना' में एक पुलिसवाले का किरदार भी निभा चुके हैं। इस फिल्म में कादिर खान ने भी अभिनय किया था।

Comments
English summary
Justice Nageswara Rao retired from the Supreme Court CJI Ramana lauds him
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X