• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Good News: त्योहार के सीजन में यात्रियों के लिए चलेगी 37 स्पेशल ट्रेन, जानिए कौन से हैं रूट

|

नई दिल्‍ली। त्‍योहार में अगर आप घर या कहीं घूमने जाना चाहते लेकिन टिकट न मिल न पाने के कारण आप निराश हैं तो अब चिंता करने की कोई जरुरत नहीं हैं, क्योंकि सरकार त्‍योहार सीजन में स्‍पेशल ट्रेन चलवाने जा रही हैं। अक्टूबर और नंबर में पड़ रहे त्‍योहारों में उतर रेलवे ने लाखों ट्रेन यात्रियों की सुविधा-सहूलियत के मद्देनजर इस बार भी विशेष इंतजाम किए हैं।

train

उत्तर रेलवे अगले कुछ दिनों में त्योहारी सीजन को देखते हुए 37 जोड़ी विशेष ट्रेनें चलाने का निर्णय लिया हैं। ।रेलवे अधिकारियों के अनुसार तीन अक्टूबर को केंद्रीय मंत्री अमित शाह नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर इन विशेष ट्रेनों के संचालन को हरी झंडी दिखाएंगे। इसके बाद पांच अक्टूबर से इन ट्रेनों में आम यात्री सफर कर सकेंगे। जिसकी बुकिंग भी शुरु हो गई हैं। अतिरिक्त टिकट काउंटर खोलने के साथ ही कर्मचारियों की संख्या भी बढ़ाने की कवायद शुरु हो चुकी है। यात्रियों की सुरक्षा के लिए भी जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। ये स्पेशल ट्रेनें दिल्ली से लखनऊ, वाराणसी, गोरखपुर और सहारनपुर (उत्तर प्रदेश) और मुजफ्फरपुर, पटना, गया, छपरा (बिहार) मुंबई, पुणे (महाराष्ट्र) और वैष्णो देवी (जम्मू-कश्मीर) समेत कई शहरों के बीच चलेंगी।

37 विशेष ट्रेनें

बता दें कि नवरात्र शुरू होने के साथ ही ट्रेनों में भीड़ भी बढ़ने लगी है। ट्रेन में कंफर्म टिकट मिलना मुश्किल हो गया है। अधिकांश महत्वपूर्ण ट्रेनों में लंबी प्रतीक्षा सूची है। दशहरा, दिवाली और छठ पूजा के आसपास किसी भी ट्रेन में जगह नहीं है। वैष्णो देवी कटरा और पूर्व दिशा की ओर जाने वाली ट्रेनों ज्यादा भीड़ है। दिवाली व छठ पूजा के दिनों के टिकट तो चार माह पहले ही बुक हो गए थे। ऐसे में कई लोग तत्काल में टिकट लेने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन भीड़ को देखते हुए यह भी आसान नहीं है। यात्रियों की इस परेशानी को ध्यान में रखते हुए रेल प्रशासन ने विशेष ट्रेन चलाने का फैसला किया है। इस स्थिति यात्रियों की सुविधा के लिए उत्तर रेलवे ने 37 विशेष ट्रेनें चलाने का फैसला किया है। इसके साथ ही नियमित ट्रेनों में अतिरिक्त कोच भी लगाए जा रहे हैं। इन प्रयासों से दस लाख के करीब अतिरिक्त सीट की व्यवस्था की जा रही है जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोग त्योहार के दिनों में अपनों के पास पहुंच सकें।रेलवे स्टेशनों पर यात्री सुविधाएं बढाने के लिए भी काम किया जा रहा है।

23 नियमित ट्रेनों में लगाए गए हैं अतिरिक्त कोच

कई विशेष ट्रेनों की घोषणा हो गई है और आने वाले दिनों में कई और घोषित होंगी। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि उत्तर रेलवे ने 37 विशेष ट्रेन चलाने का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेजा गया था जिसे मंजूरी मिल गई है। इन ट्रेनों के कुल 466 फेरे होंगे जिससे लगभग नौ लाख यात्री सफर कर सकेंगे। विशेष ट्रेन चलाने के साथ ही 23 नियमित ट्रेनों में 40 अतिरिक्त कोच भी लगाए जा रहे हैं। अतिरिक्त कोच लगाने से त्योहार के मौसम में लगभग 80 हजार से ज्यादा सीट उपलब्ध हो सकेगी।

indian rail

37 ट्रेनें लगाएंगी 466 फेरे

मिली जानकारी के मुताबिक, ये 37 विशेष ट्रेनें कुल 466 फेरे लगाएंगी। माना जा रहा है कि पिछले साल की तुलना में फेरों की संख्या बढ़ने से यात्रियों को सहूलियत मिलेगी तो रेलवे का मुनाफा बढ़ेगा। बता दें कि पिछले साल उत्तर रेलवे ने 67 विशेष ट्रेनों का संचालन किया था, लेकिन फेरे सिर्फ 366 लगे थे। पिछले साल से सबक लेते हुए अब रेलवे ने ट्रेनों की संख्या घटाकर इनके फेरे बढ़ा दिए हैं। इसके अलावा, 23 रेगुलर ट्रेनों जरूरत के हिसाब से 40 अतिरिक्त कोच लगाने की योजना भी है।

विगत वर्ष विशेष ट्रेनों के लगे थे 366 फेरे

अधिकारियों ने बताया कि पिछले वर्ष त्योहार के दिनों में कुल 67 विशेष ट्रेनों के 366 फेरे लगे थे। इस तरह से पिछले वर्ष की तुलना में इस बार ट्रेनों की संख्या जरूर कम है लेकिन फेरे ज्यादा लगेंगे। यदि भीड़ ज्यादा हुई तो विशेष ट्रेनों की संख्या भी बढ़ा दी जाएगी। दूसरे जोन से भी विशेष ट्रेनें चलाई जा रही हैं जिसका लाभ भी दिल्ली एनसीआर के लोगों को मिलेगा।

छठ तक चलेगी 37 स्पेशल ट्रेनें

उत्तर रेलवे से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक, खासकर यूपी और बिहार के लोग छठ और दिवाली त्योहार पर ज्यादा आवाजाही करते हैं। ऐसे में पिछली बार की तरह इस बार भी विशेष ट्रेनों का संचालन करने का फैसला लिया है।

वंदे भारत में पहले दिन नहीं है कंफर्म टिकट

नई दिल्ली से कटड़ा के बीच चलने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस की बुकिंग शुरू हो गई है। तीन अक्टूबर को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से इसे हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। वहीं, पांच अक्टूबर से यात्री इसमें सफर कर सकेंगे। पहले दिन कटड़ा जाने के लिए इस ट्रेन के एसी चेयरकार की सभी सीटें भर गई हैं। एक्जीक्यूटिव चेयरकार में अभी कुछ सीटें खाली हैं।

हालांकि, छह अक्टूबर और उससे आगे की तिथि में सफर करने के लिए सीटें उपलब्ध हैं। कटड़ा से नई दिल्ली आने के लिए भी सीट उपलब्ध है। मंगलवार को छोड़कर सप्ताह में छह दिन यह ट्रेन नई दिल्ली से सुबह छह बजे रवाना होकर दोपहर दो बजे कटड़ा पहुंचेगी। वापसी में कटड़ा से अपराह्न तीन बजे चलकर रात 11 बजे नई दिल्ली पहुंचेगी। 16 कोच वाली इस ट्रेन में 1128 यात्री बैठकर सफर कर सकेंगे। नई दिल्ली से कटड़ा के लिए एसी चेयरकार का किराया भोजन सहित 1630 रुपये और एक्जीक्यूटिव चेयरकार का किराया 3015 रुपये है। यात्रियों के पास भोजन लेने या नहीं लेने का विकल्प है। भोजन नहीं लेने पर किराया कम हो जाएगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The Indian Northern Railway has decided to run 37 special trains for the festival in October and November. At the same time additional coaches will be added to the regular trains.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X